Breaking
Sat. May 18th, 2024

[ad_1]

Spotify छंटनी 2023: ऑफ़लाइन म्यूज़िक प्लेटफ़ॉर्म Spotify ने बड़े पैमाने पर ड्रॉ करने की योजना बनाई है। कंपनी ने अपने 17 प्रतिशत कर्मचारियों को नौकरी से निकाला है। ऐसे में 1500 लोगों की नौकरी खतरे में पड़ गई है। यह तीसरी बार है जब कंपनी ड्रॉ करने वाली है। इससे पहले जनवरी 2023 में स्पॉटिफ़ाई ने अपने 6 प्रतिशत कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखाया था। वहीं जून 2023 में भी कंपनी की 2 फीसदी एंप्लाइज को नौकरी से निकाल दिया गया था. बता दें कि स्पॉटिफाई एक स्वीडिश ऑडिओ स्ट्रीमिंग और मीडिया सेवा प्रदाता की स्थापना वर्ष 2006 में डैनियल एक ने की थी।

कंपनी ने ड्रॉ का विवरण जारी किया

स्पॉटिफाई के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) डेनियल एके ने ड्रैग की घोषणा करने वाले संदेश नोट में कर्मचारियों से कहा कि कंपनी के कई शो से गुजर रही है। ऐसे में सही वर्कशॉप को सही जगह पर रखना बहुत जरूरी है। उन्होंने इस ड्रॉ के लिए मामूली आर्थिक वृद्धि दर को जिम्मेदार ठहराया है। इसके साथ ही कंपनी का खर्च भी कम करना जरूरी बताया गया है। डेनियल एक ने बताया कि कंपनी अपने कुल वर्कशॉप में से 17 प्रतिशत कर्मचारियों की ड्रॉइंग करने जा रही है जिसका असर 1500 एंप्लाइज पर पड़ा है।

रखे गए कर्मचारियों की कंपनी की मदद

सीईओ डैनियल ऐक ने यह भी कहा कि कंपनी ने कर्मचारियों की मदद के लिए नौकरी छोड़ दी है। अगले कुछ घंटों में प्रभावित कर्मचारियों को इसकी जानकारी दी जाएगी और कंपनी विच्छेद वेतन के तहत अगले पांच महीने के औसत वेतनमान कर्मचारियों को दिया जाएगा। इस नोट का कैलकुलेशन कर्मचारियों के काम और अधिसूचना के आधार पर किया जाएगा। कंपनी की ये भी भरोसेमंद कंपनी है कि वह पांच महीने के दौरान अपने स्वास्थ्य पर होने वाले खर्च का भी ध्यान रखेगी।

मुश्किल दौर से गुजर रही है कंपनी

डेनियल एक ने जानकारी दी है कि कंपनी ने कोरोना महामारी के दौरान साल 2020 और 2021 में बड़े पैमाने पर मार्केट से कर्ज लेकर मार्केटिंग पर खर्च किया था। लेकिन इसके बाद रिजर्व बैंक के साथ लोन महंगा हो गया और कंपनी पर संकट बढ़ गया। ऐसे में कंपनी ने अपनी लागत कम करने के लिए ड्रॉ का निर्णय लिया जिससे उसे खर्च कम करने में आसानी हो।

ये भी पढ़ें

Byju Salary Crisis: बायजू के मालिक ने रखी घर गिरवी, 15 हजार लोगों की मिली-जुली रकम

[ad_2]

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *