Breaking
Tue. Apr 23rd, 2024

[ad_1]

ब्रोकरेज फर्म स्टाफ़ स्टाकाज और डेंटल बैंक मार्केट एनालिस्ट के आकर्षण केंद्र में आ गए हैं। असली अरेस्ट बैंक की सहायक कंपनी साकाथज के स्टॉक को बाजार से डीलिस्ट करने की मंजूरी मिल गई है। इसी कारण एनालिस्ट के सहयोगियों ने इन पर टिकी हुई हैं। ब्रोकरेज़ फर्म ने स्टॉक की डीलिस्टिंग को 29 जून को ड्राफ्ट स्कॉइज़ पेश किया था। उसके बाद उसके फॉलोअर्स बैंक ने फॉलोअर्स के पब्लिक शेयर होल्डर्स को अपना होल्डिंग कैंसल करने के बदले में शेयर ईशू करने का ऑफर दिया था। इस लाइब्रेरी से मिले एनओसी को अपने स्वामित्व वाली सहायक कंपनी बनाने की सलाह दी गई थी। के पास डीलिस्टिंग का आवेदन किया गया था। 15 जुलाई को दोनों स्टॉक रिव्यू के लिए आवेदन नीचे दिए गए थे। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज आईआईएसई ने 28 नवंबर को अनापत्ति प्रमाण पत्र पेश किया, जबकि 29 नवंबर को अनापत्ति प्रमाण पत्र की पेशकश की गई, जबकि अद्यतित ने प्रस्तावित डीलिस्टिंग के लिए 29 नवंबर को एनओसी से मुलाकात की।

अभी आइडियाज की समीक्षा

इससे सबसे पहले अरुणाचल प्रदेश और आंध्र प्रदेश बैंक को कुछ अन्य जरूरी दस्तावेज़ भी मिले हैं। रिजर्व बैंक ने इस संबंध में बांड बैंक को 9 नवंबर को मंजूरी दी थी। हालाँकि अभी भी बैंक और फर्म को अन्य विचारों की भी आवश्यकता है। दोनों को अभी भी अपने शेयरधारक और क्रेडिटर्स की मंजूरी की जरूरत है। एनसीएलटी और अन्य फर्मों से भी मंजूरी मिलनी बाकी है। इसके लिए आम तौर पर आई शेयर बाजार पर स्टॉक एक्सचेंज के पब्लिक प्लेटफॉर्म पर स्टॉक ट्रेडिंग शुरू हो जाती है। डीलिस्ट मार्केट बिजनेस से अपने स्टॉक को निकालने के लिए कंपनी को पहले विभिन्न स्टेकहोल्डर्स को भुगतान करना होगा।

इलेक्शन का फैंटेसी गेम खेलें, जीतें 10,000 तक के गैजेट्स 🏆
*T&C लागू करें
https://bit.ly/ekbabplbanhin

ये पढ़ें: जीवन भर नहीं होगी कमाई की वैलिडिटी, एलआईसी का यह नया प्लान है कई वैल्यूएशन का मापदंड

[ad_2]

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *