Breaking
Fri. Mar 1st, 2024


एप्पल नौकरी हानि: नए साल की शुरुआत के साथ ही टेक कंपनी में काम करने वाले लोगों की नौकरी पर तलवारें लटकने लगी हैं। गूगल के बाद अब ऐपल ने भी बड़े पैमाने पर बदलाव का प्लान बनाया है, जिसका असर कर्मचारियों की नौकरी पर दिखता है। ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के अनुसार एप्पल ने सिरी के लिए काम करने वाली एआई टीम को बंद करने का फैसला किया है। ऐसे में इसमें काम करने वाले एंप्लाइज पर ड्रैग की तलवारें लटकने लगी हैं। इस टीम में 121 एंप्लाइज काम कर रहे हैं। कंपनी ने सैन डिएगो की टीम को टेक्सास की टीम के साथ मर्ज करने का ऑर्डर दिया है।

ऐपल ने कर्मचारियों को दी डेडलाइन

सैन डिएगो स्थित एआई टीम को बंद करने के फैसले के बाद ऐपल ने कर्मचारियों को ऑस्टिन में जाने का विकल्प दिया है। अगर स्टाफ ऐसा करने से मना कर दे तो कंपनी ने उन्हें नौकरी से निकाल दिया। एप्लाइज को इसके लिए फरवरी 2024 तक का समय दिया गया है। जो लोग रिलोकेशन के लिए मनाएंगे, उन्हें 26 अप्रैल के बाद कंपनी से बाहर कर दिया जाएगा। इस एआई टीम का ऑफिस अमेरिका के अलावा भारत, चीन, स्पेन, आयरलैंड और स्पेन में भी मौजूद है।

आदर्श ने कही ये बात

ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के अनुसार एप्पल ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया है कि कंपनी ने डेटा ऑपरेशन टीम को रिलोकेशन के बारे में बताया है। सभी लोगों को ऑस्टिन रिलोकेट करने को कहा गया है, जहां पहले से ही इस टीम के ज्यादातर सदस्य काम कर रहे हैं। कंपनी के इस फैसले से कंपनी में ये संकट मंडरा रहा है कि आने वाले समय में कई कर्मचारी नौकरी छोड़ सकते हैं। सितंबर 2023 तक ऐपल में काम करने वाले कुल कर्मचारियों की संख्या 161,000 थी. कंपनी ने बाद में दावा किया कि यह बेहद कम खींचतान है।

गूगल में भी ड्रॉ का प्लान तैयार

ऐप से पहले गूगल ने एक बड़े पैमाने पर ड्रॉ का प्लान बनाया है। कंपनी ने साल 2024 में सिथ्य (हार्डवेयर), कोर इंजीनियरिंग (कोर इंजीनियरिंग) और गूगल क्रिएटर (गूगल असिस्टेंट) टीम में ड्रॉ कर रही है। इसके साथ ही गूगल के वॉयस-क्रिकेट किए गए गूगल स्केचपेपर टीम में काम करने वालों को भी नौकरी से आउट किया जा रहा है।

ये भी पढ़ें-

19 साल का काम…गूगल पर एक ईमेल के जरिए नौकरी से निकला स्टाफ, स्टाफ ने बताई पूरी कहानी

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *