Breaking
Mon. Feb 26th, 2024


हैप्पी फोर्जिंग्स आईपीओ: आई मॉडल की तारीफ से आज का दिन बहुत अहम है। आज हैप्पी फोर्जिंग लिमिटेड 1,008.59 करोड़ रुपये की कीमत पर खुली है। इसमें कंपनी ने 400 करोड़ रुपए के फ्रेश शेयर ऑफर जारी किए हैं, वहीं सेल के लिए 608.59 करोड़ रुपए के शेयर ऑफर जारी किए जा रहे हैं। अगर आप भी इस आईडिया में पैसे बनाने के बारे में सोच रहे हैं तो यहां आपको इसके सभी विवरण के बारे में जानकारी मिलेगी।

हैप्पी फोर्जिंग आई से जुड़ी जरूरी तारीखें

यह आई उदाहरण मंगलवार 19 दिसंबर, 2023 को यानि आज खुल गया है। आप 21 दिसंबर, 2023 तक पैसे ले सकते हैं। इस आई सील में स्टॉक का अलॉटमेंट 22 दिसंबर को होगा। अन्यत्र निवेश को 26 दिसंबर को शेष रहेगा। सफल प्रतिभागियों को शेयर डीमैट में 26 दिसंबर को मिलेंगे। स्टॉक की समीक्षा बीएसई और एनएसई पर 27 दिसंबर को होगी।

विक्रय मूल्य पर क्या प्रभाव पड़ता है?

हैप्पी फोर्जिंग आई कंपनी के लिए कंपनी ने अपना बिजनेस बैंड 808 रुपये से लेकर 850 रुपये प्रति शेयर के बीच तय किया है। आई रिसर्च में 50 प्रतिशत हिस्सा क्वाली पिरामिड इंस्टीट्यूशनल बायर्स, स्ट्रैंथ कंपनी के लिए 35 प्रतिशत हिस्सा और हाई नेट इंडिविजुअल के लिए 15 प्रतिशत हिस्सा तय किया गया है। एक बार में 17 स्टॉक का एक प्लॉट खरीदा जा सकता है। वैसे ज्यादातर 13 स्टॉक की बोलियां हो सकती हैं। ऐसे में कम से कम 14,450 रुपये और ज्यादातर 1,87,850 रुपये की बोली में यह एक स्नातक में बेच सकते हैं।

जीप एमपी का हाल क्या है?

19 दिसंबर को सामान्य ज्वालामुखी के लिए पहले दल का उद्घाटन 18 दिसंबर को हुआ था। एंकर राउंड में कंपनी ने कुल 3,559,740 रियल एस्टेट स्टॉक के जरिए 302.58 करोड़ रुपये पहले ही बेच दिए हैं। कंपनी के स्टॉक का जीप एमपी 415 रुपये में बना है। ऐसे में एक दिन में जब तक यह स्थिति बनी रहती है तब तक यह सब्सक्राइबर्स को 48.82 फिसड्डी मुनाफ़ा के साथ 1265 पर स्टॉक की लिस्टिंग हो सकती है।

क्या करती है कंपनी?

हैप्पी फोर्जिंग एक हैवी फोर्जिंग और मशीन डिजाइन करने वाली कंपनी है जिसकी शुरुआत साल 1979 में हुई थी। कंपनी ने वित्त वर्ष 2023 में कुल 208.70 करोड़ रुपये का प्रॉफिट कमाया था। वहीं पूरे साल में कंपनी ने कुल 1,197 करोड़ रुपये की कमाई की थी. इस आई ने प्राइवेट लिमिटेड को कंपनी को अपने बिजनेस को बढ़ाने, कंपनी को पूरा करने और कर्ज चुकाने के लिए कहा।

ये भी पढ़ें-

आईडीएफसी-आईडीएफसी बैंक विलय: जल्द ही होगा आईडीएफसी का पहला बैंक आईडीएफसी का विलय, रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने दी मंजूरी

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *