Breaking
Tue. Apr 16th, 2024


सहारा में हजारों करोड़ का निवेश निवेश के साथ बैठे लाखों निवेशकों को अभी भी राहत नहीं मिल पा रही है, जबकि उनके निवेश के शेयरों के लिए ऑनलाइन पोर्टल शुरू हो चुका है। एक आरटीआई में सामने आई सहारा आर्टिफिशियल पोर्टल का ऐसा सच सामने आया है, जिसे जानकर आप पूरी तरह से हैरान रह जाएंगे। के बारे में बताया गया है कि पोर्टल के माध्यम से अब तक सिर्फ 0.27 फीसदी का भुगतान हो पाया है। सेंट्रल रेस्ट्रॉन्ट ऑफ कोऑपरेटिव सोसाइटी यानी सीआरपीएफ पोर्टल के जरिए सहारा के निवेशकों ने अब तक 82,695.51 करोड़ रुपये का दावा जमा किया है। इनसे सिर्फ 228.77 करोड़ रुपये का ही भुगतान हो पाया है।

जुलाई में हुई थी पोर्टल शुरुआत

यह स्थिति तब है, जब सहारा मंजूरी पोर्टल को शुरू हुए करीब 6 महीने होने वाले हैं। हैं. गृह मंत्री अमित शाह ने पिछले साल 18 जुलाई को सहारा के सहारा सेंट्रल पोर्टल की शुरुआत की थी। पोर्टल के माध्यम से अभी सहारा की कॉपरेटिव सोसायटी- सहारा क्रेडिट कॉपरेटिव सोसायटी लिमिटेड, सहारायन यूनिवर्सल मल्टीपरपस सोसायटी लिमिटेड, हमारा इंडिया क्रेडिट कॉपरेटिव सोसायटी लिमिटेड और स्टार मल्टीपार्पस कॉपरेटिव सोसायटी लिमिटेड- के संस्थापक निवेशक क्लेम कर सकते हैं।

< h3>इतने उद्यम ने पोर्टल पर रजिस्टर किया

रिपोर्ट के अनुसार, आर्ट एक्टिविस्ट आकाश गोयल ने इस संबंध में सूचना के अधिकार कानून के तहत जानकारी के लिए जवाब मांगा था। आरटीआई में पूछे गए सवालों के जवाब में बताया गया कि अब तक 1,60,38,266 तक सीआरसीआर्पोर्ट पोर्टल पर आवेदकों ने नामांकन किया है। पंजीकृत उद्यमों ने अब तक बंधकों के कुल 3,41,15,418 दावे किए हैं। ये दावा कुल 82,695.51 करोड़ रुपये का था, जिसमें से सिर्फ 228.77 करोड़ रुपये का भुगतान दावा किया गया था। जानकारी के अनुसार, सीआरसीआर्इपीओ पोर्टल के जरिए 52,113 दावे फिर से जमा किए गए हैं। टोटल वैल्यूएशन 52.19 करोड़ रुपये है. इनमें से सिर्फ 3.13 करोड़ रुपये का भुगतान हो गया है। विश्वास ने फिर से सबमिट किया और कहा कि करीब 6 प्रतिशत का भुगतान मिल पाया है।

सरकार ने दिया है ये भरोसा

बीते दिन सहारा के सुब्रत रॉय के निधन के बाद सरकार ने कहा उनके सहायकों में से सभी को एक-एक पैसा लौटाना होगा। सरकार ने संसद में बताया कि अभी छोटे-छोटे दावे किये जा रहे हैं। सर्वोच्च न्यायालय के लिए जल्द ही सरकारी अतिरिक्त निधि जारी की जाएगी।

ये भी पढ़ें: डिग्गज टेक कंपनी के लिए बुरे सपने की शुरुआत साल में हुई थी, पहले 4 दिन में ही हुआ था अरबों डॉलर का नुकसान

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *