Breaking
Tue. Apr 23rd, 2024

[ad_1]

निवेश के अवसर: व्हाइट ओक कैपिटल म्यूच्यूअल फंड्स ने बाजार में दो नए फंड्स की पेशकश की है। व्हाइट ओक कैपिटल फार्मास्युटिकल एंड फ़्रांसीसी फ़्रांसीसी 16 जनवरी से 30 जनवरी तक ओपन छोड़े गए। यह दोनों ही एनएफओ ओपन एंड्राइड स्टॉक्स हैं। पहले फंड में बैंक, एनबीएफसी और फाइनेंशियल सर्विसेज से जुड़े संस्थानों में निवेश किया गया था। इसे एंटरप्राइज़ ऑफिस, एसेट कॉर्पोरेट्स, कैपिटल मार्केट इंटरमीडियरीज, मार्केट पिक्चर्स और फिनटेक तक सीमित नहीं रखा गया है। एक अन्य फार्मास्युटिकल मेडिसिन और फर्मों में निवेश के लिए लाया गया है।

तेजी से बढ़ रहे शेयर बाजार में निवेशक

ओक (व्हाइटओक) के सीईओ आशीष पी सोमैया ने बताया कि कंपनी थीम पर आधारित व्हाइट फंड बाजार स्थित है। भारतीय इन्वेस्टमेंट मार्केट में निवेश के बेहतरीन उपकरण इन स्कॉबी दोनों से मिलेंगे। हमारी टीम ने काफी रिसर्च के बाद तैयार किया है। उन्होंने बताया कि जनधन योजना, आधार और मोबाइल से बाजार तक पहुंचना काफी आसान है। इसकी वजह से नए निवेशक आकर्षित हो रहे हैं।

सुधारों से लेकर वित्तीय सेवा क्षेत्र तक की तस्वीरें बदलीं

उन्होंने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में किए गए सुधारों से लेकर वित्तीय एवं वित्तीय सेवा क्षेत्र की तस्वीरें बदली हुई हैं। उपकरण सेक्टर का लाभ बढ़ाया गया है। साथ ही सेक्टर सेक्टर में भी बड़ा सुधार आया है। हमारा फेलो है कि सेक्टर सेक्टर में अभी बहुत ज्यादा स्टॉक हैं। व्हाइट ओक की टीम ने शोर मचाते हुए कहा कि यह दोनों एनएफओ तैयार हैं। इनमें से किसी एक की संपत्ति में अच्छा ग्रेडिएंट शेयर हो सकता है। इनका निवेश पूरी तरह से सुरक्षित भी है।

लंबी अवधि के निवेश से अच्छा लाभ मिल सकता है

ओक की कंपनी सीबीओ प्रतीक पंत के अनुसार, पिछले 18 महीनों में नवजात की व्हाइट की मांग को देखते हुए इलेक्ट्रॉनिक्स और हाइब्रिड उत्पाद बाजार में उतरे हैं। यह लॉन्ग टर्म वेल्थ के खाते से बहुत उपयोगी साबित होगा। यह दोनों एनएफओ भी लंबी अवधि के निवेश पर अच्छा लाभ दे सकते हैं।

ये भी पढ़ें

ऑनलाइन धोखाधड़ी 2023: ऑनलाइन ठगों ने 201 करोड़ रुपए की लूट की, इस राज्य में 23 हजार लोग बने शिकार

[ad_2]

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *