Breaking
Wed. Jun 19th, 2024

[ad_1]

विकसित भारत@2047: अगले 24 साल यानी साल 2047 तक भारत के मजदूरों की यात्रा कैसे तय होगी, इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बड़ी योजना का खाका सामने रखा है। वर्ष 2047 तक भारत को विकसित देश के रूप में दुनिया के सामने लाने के लिए भारत का विज़न डॉक्युमेंट पेश किया जा चुका है। इसके साथ ही विकसित भारत प्रोग्राम की शुरुआत हुई है।

युवाओं की मदद से भारत बनेगा विकसित देश

विकसित भारत @2047 या विकसित भारत @2047 कार्यक्रम में मोदी ने देश के युवाओं के लिए अपना प्लान पेश किया है। इसके अलावा फार्मास्यूटिकल्स भी लगाए जा रहे हैं। इसे ‘विकसित भारत @2047: वॉयस ऑफ यूथ’ नाम दिया गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी क्या कहा

पीएम मोदी ने इस अवसर पर अपनी मंजूरी में कहा कि ये आजादी अमृतकाल है और भारत के लिए मजदूरों की राह पर फर्राटा की घोषणा का ‘यही समय है-सही समय है।’ पूरी युवा पीढ़ी इस समय अपनी ऊर्जा के माध्यम से देश को आगे ले जाने के लिए तैयार है। आजादी मिलने के समय जिस तरह युवा जोश ने देश को आगे बढ़ाया, ठीक उसी तरह अब युवाओं का लक्ष्य और संकल्प एक ही होना चाहिए- ‘विकसित देश कैसे बनेगा भारत’।

ऐसा क्या करें कि भारत विकसित होने के अपने मार्ग में तेजी से आगे बढ़े और इसके लिए देश की युवा ऊर्जा को ऐसे ही लक्ष्य के लिए चैनलाइज करना है। देश की यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलरों से भी मोदी ने कहा कि बच्चों के साथ मिलकर ‘विकासशील भारत@2047’ के लक्ष्य में योगदान देने के लिए आउट ऑफ द बॉक्स यानि अपनी टीम से बाहर के खिलाड़ियों को शामिल करना होगा।

डॉक्टर और भारत में मैं सबसे पहले

पीएम मोदी ने कहा कि भारत में मैं सबसे पहले सबसे पहले आता हूं और ये मेडिसिन ही सबसे बेकार दवा है. विकसित भारत के विजन के तहत लॉन्च किए गए पोर्टल पर पांच अलग-अलग सुझाव दिए जा सकते हैं। पुरस्कारों के लिए सबसे बेहतरीन 10 सिफ़ारिशें और परामर्शदाताओं की भी व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा कि हमें ऐसी युवा पीढ़ी विकसित करनी है जो आने वाले समय में देशहित को सर्वोपरि रखते हुए भारत को हथियारों की राह पर सबसे आगे बनाए रखे।

यहां आयोजित हुई ‘विकसित भारत @2047’ कार्यशाला

सुबह 10.30 बजे देश के सभी निकोलस में इसके लिए कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है। सभी विश्वविद्यालयों के कुलपतियों और कुलपतियों और कई आर्गन समाज के प्रमुखों द्वारा आयोजित कार्यक्रम में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी स्थानों पर प्रसारित किया जा रहा है।

ये भी पढ़ें

[ad_2]

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *