Breaking
Wed. Jun 19th, 2024

[ad_1]

भारत की जीडीपी: वित्त मंत्री ने भरोसेमंद डॉलर के साथ वित्त वर्ष 2027-28 तक भारत 5 ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था के साथ दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनाई और 2047 तक भारत 30 ट्रिलियन डॉलर के साथ विकसित अर्थव्यवस्था बनी। भारत की अर्थव्यवस्था 3.4 ट्रिलियन डॉलर की है और अमेरिका, चीन, जापान और जर्मनी के बाद पांचवीं बड़ी अर्थव्यवस्था है।

वित्त मंत्री ने कहा कि 2047 में भारत की आजादी के 100 साल पूरे हो गए तो इस अमृतकाल के दौरान सनराइज इंडस्ट्रीज यानी सेक्टरों का उदय हुआ और इस अवधि के दौरान सेक्टरों का उदय हुआ। . उन्होंने कहा कि मोदी सरकार को 9 साल के पुराने देश में 595 डॉलर का विदेशी निवेश आकर्षित करने में मदद मिली है।

साधारण पोर्टफोलियो ने कहा, 2027-28 तक इस बात का असर यह है कि हम दुनिया की तीसरी बड़ी इकोनोमी होगी और हमारा सिद्धांत 5 ट्रिलियन के पार चलेगा। उन्होंने कहा कि हमारा अनुमान है कि 2047 तक हम 30 ट्रिलियन डॉलर की इकोनोमी में सफल होंगे। उन्होंने कहा कि कोविड महामारी के बाद के खुलासे से भारतीयों को सामना करना पड़ रहा है और अर्थव्यवस्था में संतुलन बेहद मजबूत नजर आ रहा है। कमज़ोर शेयरधारकों ने कहा कि 2047 तक भारत के विकास की अर्थव्यवस्था बनने की राह में गुजरात भारत के इंजनों पर काम करेगा।

वित्त मंत्री ने समित में कहा कि गुजरात में देश की 5 प्रतिशत आबादी रहती है लेकिन देश के लोकतंत्र में उनका योगदान 8.5 प्रतिशत है। उन्होंने कहा कि 2011 से 2014 की अवधि में राज्य की विकास दर 12 प्रतिशत से आगे बढ़ रही है जबकि राष्ट्रीय औसत 10.4 प्रतिशत है। उन्होंने कहा कि भारत इन हाउस सेमीकंडक्टर निर्माता बन रहा है और इलेक्ट्रिक सामान बड़े पैमाने पर यहां पर बनाया जा रहा है। उन्होंने इसका श्रेय सरकार के एफ क्रेडिट संस्थानों को दिया है।

ये भी पढ़ें

होम लोन ईएमआई: मुंबई के होम लोन का 51% होम लोन पर कर रहे खर्च, कर्ज सस्ता होने पर भार होगा कम

[ad_2]

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *