Breaking
Sat. Feb 24th, 2024


भारी निवेश: वाइब्रेंट गुजरात सम्मलेन (वाइब्रेंट गुजरात) को इस बार भी संस्था से विशेष सहयोग मिला है। तीन दिन तक इस सम्मलेन में देश-विदेश के निगमों ने गुजरात में भारी भरकम निवेश की घोषणा की। अडानी ग्रुप (अडानी ग्रुप), टाटा ग्रुप (टाटा ग्रुप), रिलायन्स इंडस्ट्रीज (रिलायंस इंडस्ट्रीज) और आईपी वर्ल्ड (डीपी वर्ल्ड) समेत कई छोटी-बड़ी कंपनियों ने 41299 निवेश प्रस्ताव पेश किए हैं। इन प्रोजेक्ट्स के जरिए गुजरात में एसोसिएट्स ने करीब 26.33 लाख करोड़ रुपए के निवेश की दिलचस्पी दिखाई।

हरित ऊर्जा क्षेत्र में बड़े पैमाने पर कई सौदे हुए

आधिकारिक जानकारी के अनुसार, जीवंत गुजरात के 10 वें संस्करण में हरित ऊर्जा (हरित ऊर्जा) क्षेत्र में कई बड़े सौदे किए गए। साल 2022 में गुजरात में 18.87 लाख करोड़ रुपये के 57,241 प्रोजेक्ट्स के यू-आईपीओ साइन थे। कोविड-19 के चलते 2021 में होने वाला सम्मलेन रद्द कर दिया गया था। इसी तरह पिछले दो संस्करणों में कुल 98540 प्रोजेक्ट्स के आइडियोन्यु साइन चले गए और करीब 45 लाख करोड़ रुपये का निवेश गुजरात को चुकाना पड़ा।

3500 विदेशी निर्माताओं ने सम्लेन में भाग लिया

वाइब्रेंट गुजरात के गैलरी एक्सएक्स हैंडल से पोस्ट किया गया कि सेमीकंडक्टर्स, ई-मोबिलिटी, ग्रीन स्ट्रेटेजी और अक्षय ऊर्जा जैसे सेक्टर में बड़ी संख्या में निवेश आया है। यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (नरेंद्र मोदी) आजादी के 100वें साल में विकसित भारत (Viksit India@2047) के सपने को साकार करने की दिशा में एक बड़ा कदम है। इन तीन दिनों में 3500 विदेशी उद्यमियों ने सम्मेलन में भाग लिया। इस कार्यक्रम में 34 ग्रेटर देश और 16 राजस्थान संस्थाएँ शामिल हैं। इस सम्मलेन का उपयोग नार्थ ईस्ट स्टेट में निवेश के स्टॉक दर्शन के लिए भी किया गया।

देश विदेश के नामी उद्योगपति भी कार्यक्रम में शामिल हुए

इस साल आयोजित कार्यक्रम में लक्ष्य क्लब, तोशीहिरो सुजुकी, मुकेश अंबानी, संजय मेहरोत्रा, गौतम अडानी, जेफरी निर्वाचित, एनशेखरन, सुल्तान अहमद बिन सुलायम, शंकर शेखर और निखिल कामत आदि शामिल हुए। पीएम मोदी ने रविवार को कार्यक्रम का उद्घाटन किया था. उन्हें उम्मीद थी कि आने वाले कुछ वर्ष पुराने भारत में दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनेंगे। गृह मंत्री अमित शाह भी इस कार्यक्रम में शामिल हुए.

ये भी पढ़ें

शेयर बाजार: 4 दिन में बिकिनी ने कमाया 6.88 लाख करोड़, 373 लाख करोड़ रुपए का मार्केट कैप



Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *