Breaking
Wed. Apr 17th, 2024


जियो और डिज़्नी हॉटस्टार: देश के सबसे अमीर और रिलांयस इंडस्ट्रीज (रिलायंस इंडस्ट्रीज) के मालिक मुकेश अंबानी (मुकेश अंबानी) एंटरटेनमेंट ने जगत का सबसे बड़ा सौदा किया है। इसकी डील पूरी होने के बाद रिलायंस भारत की सबसे बड़ी इंटरटेनमेंट कंपनी बन जाएगी। रिलाएंस और वॉल्ट डिज़्नी (वॉल्ट डिज़्नी) के बीच एक नॉन-बाइडिंग समझौते पर हस्ताक्षर किया गया है। इसके तहत वॉल्ट डिज़नी के भारतीय कारोबार के 51 रिलायंट्स का हो जाएगा। दोनों कंपनियों के एक हो जाने के बाद देश की सबसे बड़ी मनोरंजन कंपनी का जन्म हुआ।

देश की सबसे बड़ी इंटरटेनमेंट कंपनी होगी रिलाएंस-डिजनी

रॉयटर्स और ईटी की रिपोर्ट के मुताबिक, इंटरटेनमेंट बिजनेस (एंटरटेनमेंट बिजनेस) का यह सबसे बड़ा बिजनेस फरवरी, 2024 तक पूरा हो सकता है। रिपोर्ट में बताया गया कि मुकेश अंबानी के स्वामित्व वाली रिलांयस में 51 फीसदी हिस्सेदारी और 49 फीसदी हिस्सा डिज्नी का होगा। इस मर्जर में कैश और स्टॉक्स दोनों शामिल हैं। यह पूरा होने के साथ ही रिलाएंस-डिजनी देश की सबसे बड़ी इंटरटेनमेंट कंपनी (सबसे बड़ी मनोरंजन कंपनी) बनेगी। रॉयटर्स ने दो सप्ताह पहले बताया था कि दोनों कंपनी के अधिकारी इस डील पर बात करने के लिए लंदन में मिलने वाले हैं।

अमेरीका प्राइम, जापानीज, जी और सोनी की चिंताएं

आरआईएल और वॉल्ट डिजनी के मर्जर से जी नेटवर्क, सोनी टीवी, यूएसएम प्राइम और डीएनएस को सीधे टक्कर मिलती है। असली समय में आरआईएल की जियो कई ऐप्स और वियाकॉम18 के साथ मीडिया एवं एंटरटेनमेंट सेक्टर में मौजूद है।

जियो सिनेमा और डिज्नी हॉटस्टार में चल रही थी टक्कर

इस मर्जर में जियो सिनेमा (जियो सिनेमा) भी शामिल है। इसके पास आईपीएल (इंडियन प्रीमियर लीग) के ऑनलाइन रिस्ट हैं। इससे पहले ये राइट्स डिज़्नी हॉटस्टार (डिज़्नी हॉटस्टार) के पास थे। इस सेक्टर में अंबानी को टक्कर डिजनी से ही मिल रही थी। आईपीएल के ऑनलाइन रीस्ट्स के बाद से ही डिजनी हॉटस्टार के दर्शक घटने लगे थे।

भारतीय बिज़नेस को युवा चाहत थी डिज़्नी

रिपोर्ट के मुताबिक, जनवरी 2023 से ही डिजीनी ने अपने भारतीय कारोबार को बेचने या ज्वाइंट वेंचर के लिए किसी भारतीय कंपनी को ग्रेटर नोएडा बनाने की कोशिश में शामिल किया था। डिज्नी के कई टीवी चैनल और हॉटस्टार स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म भी हैं। मर्जर के बाद 1 से 1.5 अरब डॉलर तक का निवेश किया जा सकता है।

अगले महीने हो सकता है ऐलान

इस मर्जर का लॉन्च अगले महीने की शुरुआत में हो सकता है। प्रस्ताव के तहत, किसी भी कैश और स्टॉक स्वैप के पूरा होने के बाद डिज्नी भारतीय कंपनी में अल्पसंख्यक शेयर जरूर रखेगी।

ये भी पढ़ें

ईयर एंडर 2023: आई सुपरमार्केट्स का प्रदर्शन, छोटी कंपनियों का प्रदर्शन रहा शानदार, अन्य कंपनियों के लिए बाजार गुलजार

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *