Breaking
Fri. Mar 1st, 2024


रयानएयर होल्डिंग्स पीएलसी: भारत के सबसे ज्यादा शेयर वाले सीईओ भी 100 करोड़ रुपये नहीं लेते हैं। यहां 50 करोड़ रुपये वाले सीईओ भी मीडिया के पोस्ट में हैं। मगर, आज हमने आपको एक ऐसे सीईओ के बारे में बताया है, जो पूरी तरह से 905 करोड़ रुपये (100 मिलियन यूरो) हासिल करने का दावा करता है। हम बात कर रहे हैं, रयानएयर होल्डिंग्स पीएलसी (Rयानएयर होल्डिंग्स पीएलसी) के सीईओ माइकल ओरी (माइकल ओ’लेरी) के।

कैसे वास्तविक सारी नकदी

माइकल ओ लेरी को इतनी बड़ी डेट मुलाकात के काफी आसक्त नजर आ रहे हैं. रायन एयरलाइंस पीएलसी एक लो कॉस्ट एयरलाइंस है। यह आयरलैंड कंपनी है. ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक, अगर कंपनी के शेयर ऐसे ही बढ़ रहे हैं तो जल्द ही माइकल को 2019 की एक शर्त के मुताबिक 100 मिलियन यूरो का उछाल मिलेगा। माइकल के साथ कंपनी ने बाजार आधारित समझौता किया था.

शर्त पूरी करने के लिए बहुत पूर्व पूर्व संध्या माइकल

रिपोर्ट के मुताबिक, सीईओ माइकल शर्त को पूरा करने के बहुत करीब पहुंच गए हैं। अगर 28 दिन तक विमान के शेयर 21 यूरो के रेट पर बने रहें तो उन्हें 905 करोड़ रुपये की कीमत के बराबर शेयर मिल जाएंगे। उन्हें 11.12 यूरो की दर 10 मिलियन पर शेयर करें। यह सपना जल्द ही सच हो सकता है। शुक्रवार को कंपनी के स्टॉक का नुकसान 18.84 यूरो हो गया था।

कब तक मिल सकता है पैसा

मतो के अनुसार, इस साल कंपनी के शेयर में 50 प्रतिशत की उछाल आई है। अगले 12 महीनों में कंपनी की हिस्सेदारी 24.10 यूरो पर पहुंच सकती है। इसके साथ ही कंपनी को माइकल को 905 करोड़ रुपये मिलेंगे। पिछले साल शेयर की कीमत 13 यूरो थी. यह इंसेंटिव प्लान 2028 तक है।

और क्या है पैसा मीटिंग का रास्ता

इस प्रोत्साहन को प्राप्त करने का एक दूसरा रास्ता भी माइकल के पास है। इसके मुताबिक, अगर कंपनी को टैक्स के बाद 2.2 अरब यूरो का फायदा हो तो भी माइकल अपने पैसे के हकदार हो जाएंगे। नवंबर में रेनएयर ने बताया था कि उनका इस साल का फायदा 1.85 अरब डॉलर से 2.05 अरब यूरो के बीच रहेगा।

माइकल ओ लेरी कौन हैं?

माइकल ओ लेरी आयरलैंड के डबलिन में रहने वाले हैं। वह 1994 से ही रयान कंपनी के सीईओ हैं। उन्होंने अपने कैरियर की शुरुआत के पीएमजी में अकाउंटेंट के तौर पर की थी। इसके बाद वह रेनएयर के संस्थापक टोनी रयान के वित्तीय सलाहकार बन गए और 2018 में डिप्टी चीफ एक्जीक्यूटिवा में शामिल हो गए। उनके पास कई रेस के घोड़े हैं। उनकी संपत्ति 2018 में एक अलॉटमेंट डॉलर की बिक्री हुई थी।

ये भी पढ़ें

रेप केस: सज्जन जिंदल पर हीरोइन से दुष्कर्म के मामले में जेएसडब्ल्यू ग्रुप के लोग बोले- मेरे ऊपर आरोप

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *