Breaking
Fri. Feb 23rd, 2024


यूपी रियल एस्टेट: ग्रेटर और मैड्रिड के लाखों लोगों के लिए मंगलवार को खुशी की खबर है। यूपी सरकार ने नीति आयोग के पूर्व सीईओ अमिताभ कांत की रिपोर्ट पर मुहर लगाई। इसके तहत रियल ए मार्केटिंग प्रोजेक्ट्स रिलेप्स के तहत रियल एस्टेट कंपनी को दो साल का जीरो लोन दिया गया है। इस बिजनेस लोन का बिजनेस कोमहल को नहीं मिलेगा। दामाद जमा न करने वाले फ्लैटों में रहने वाले लाखों लोगों के फ्लैटों की तरह राजी कारीगर हो गए। सरकार के इस फैसले से न सिर्फ होम फ्लो को राहत मिली है, बल्कि रियल ए मार्केट सेटर को भी एक जांच संदेश दिया गया है। निकटतम लाभ तो इससे रियल ए सितारामेट सेटर को भी सीधा लाभ होगा।

घर के फ्लैट की राजि कारीगरी नहीं हो पा रही थी

असल में, कोविड महामारी के दौरान लगभग दो साल तक रियल ए रेटिंग प्रोजेक्ट रिलेशंस का काम रुका रहा। इसका निर्माण एल्युमीनियम पर काफी हद तक हुआ। डेफिनिशन की मांग थी कि कोरोना महामारी के समय का छात्र जीरो स्कूल दिया जाए और इस दौरान का बिटियाज ना लिया जाए। रिलायंस फर्म की मांग मन नहीं रही थी, लेकिन ऐसे में लोगों को प्रॉजेक्टर्स के प्रोजेक्ट्स में पेज तो मिल गया उनके फ्लैट की राजी कारीगरी नहीं हो पा रही थी। पिछले दिनों अमिताभ कांत ने केस पर पूरी रिपोर्ट तैयार करने और सरकार की संस्तुति के लिए नामांकन किया था। इसपर न्यू यॉर्क को नैचुरल ने मुहर लगा दी।

क्रेडाई मैडम के अधोगम्यक्ष ने क्या कहा

क्रेडाई मेड के अध्म्याक्ष और गौड़ ग्रुप के सीएमडी मनोज भगवान उन्होंने कहा कि फ़्राईक्स के शौकीनों पर विचार करें और ज़ीरो लोन पर बिटियाज़ माफ़ी के सरकार निर्णय का हम स्वतन्त्रतापूर्वक निर्णय लेते हैं। इस कदम से दुल्हन में रहने वाले को 2.40 लाख रुपये का सीधा लाभ मिलेगा। जीरो लॉयन में बिटियाज की छूट मीटिंग के बाद अब लोग अपने घर की राजी कारीगरी करवा का आनंद लेते हैं। यह निर्णय रियल ए सर्टिफिकेट सेक्टर के लिए बेहद जांचा हुआ है। सरकार ने सेक्रेटर से जुड़े संग्रहालयों को पहचाने जाने वाले सॉल्यूशन की ओर कदम बढ़ाया है, न कि सिर्फ कलाकारों से काम कम होगा, बल्कि उनके एनोटेशन से जुड़े संग्रहालयों को भी जगह मिलेगी। इसमें निवेश की ओर कदम बढ़ाए गए हैं। इससे सीधे तौर पर देश को फायदा होगा और सेक्टर विकास में अपना योगदान देगा।

निर्णय का लाभ सभी सितारे को होगा

काउंटी समूह के डायर अटैचर अमित मोदी ने बताया कि साल 2023 रियल ए मानकेट सेटर के लिए ऊर्जा भरी जा रही है। ऐसे में अब अंत में सरकार का यह फैसला आया कि सिर्फ फिल्में नहीं बल्कि रियल ए स्मार्टफोन सेलर और ऑटोमोबाइल के लिए भी बेहतरीन है। सरकार के इस फैसले से यह साबित हो गया है कि हर आम आदमी के लिए संविधान फैसला जरूरी है। लाभ के दो लाख से अधिक घर की जांच को तो इसका लाभ ही होगा, साथ ही रियल ए वैल्यूएशन में आने वाला समय बूम लेकर आएगा। निश्चित रूप से इस फैसले के बाद अब लाखों लोगों की पेज मीटिंग के साथ-साथ काफी सारे प्रोजेक्ट्स के नेट वर्थ का पता चल जाएगा। आईएमजी सं डिजाइनों से लोन लेना आसान होगा तो इसका लाभ सं विजन और लोगों को भी होगा। इन्वेस्टमेंट को घर खरीदने और बेचने का मौका। वहीं, राजि चमत्कारी पर्वतारोहण से सरकार का राजस्व भी बढ़ता जा रहा है। फ्लैट फ्लैट दे फर्नीचर भी समय पर तैयार किया गया। ऐसे में इस फैसले का फायदा सबसे खास को होगा.

एम आई फार्मास्युटिकल ग्रुप के बेस्टलिंग डायर अटैचर यश मिगलानी का कहना है कि सरकार का यह कदम पूरी तरह से लाखों लोगों के हित में है। लंबे समय से घर फिल्म की राजी कारीगरी न होने से परेशानी उठानी पड़ रही थी। ऐसे में अब ये फैसला सिर्फ लोगों के लिए नहीं बल्कि रियल ए स्टार्सट को और भी मॉडलसनीय सेक्रेटर बनाया जाएगा। आने वाले समय में रियल ए चार्टर और रैपिड से देश की अवधारणा को बढ़ाने में योगदान दिया जाएगा।

सीआरसी ग्रुप के डायर अटैचर सेल बंधन और मार्केटिंग सलिल कुमार उन्होंने कहा कि यूपी सरकार के इस कदम से न सिर्फ लाखों लोगों को इसका फायदा होगा, बल्कि रियल ए स्टारमेट से स्ट्रैटेजिक को भी इसका फायदा मिलेगा। 4.12 लाख लोगों की राजी मंदिर और पेज मीटिंग से निकलेगा अपना आशियाना। इससे निवेश और निवेश में तेजी आएगी। आने वाले समय में रियल ए स्टारमेट सेटर देश के विकास में और अधिक योगदान देंगे।

ये भी पढ़ें

चीनी उत्पादन: चीनी उत्पादन में 11 फीसदी की गिरावट, बांध वृद्धि पर रोक के लिए सरकार कितनी तैयार?

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *