Breaking
Sat. Feb 24th, 2024


कृषि उत्पाद और सेवाएँ: भारत का कृषि सेक्टर तेजी से आगे बढ़ रहा है। विदेशी देश से एग्री एक्सपोर्ट पर लगभग 50 अरब डॉलर के आंकड़ों का भुगतान किया गया है। उम्मीद है कि 2023 तक देश से कृषि युगल 100 अरब डॉलर का आंकड़ा पार कर जाएगा।

एग्री एक्सपोर्ट के लिए 50 अरब डॉलर का भुगतान किया गया

सचिव सुनील बर्थवाल ने सोमवार को बताया कि देश से कृषि कंपनियों और सेवाओं में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। अवलोकन यह 50 अरब डॉलर का भुगतान किया गया है। हमारी कोशिश है कि आने वाले 6 साल में यह पात्र 100 अरब डॉलर को पार कर जाए। उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य देश से संपत्ति और सेवाओं के सहयोगियों को 2030 तक 2 ट्रिलियन डॉलर के लक्ष्य तक पहुंचाना है। इस लक्ष्य की पूर्ति में एग्री एक्सपोर्ट महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

रेडी टुट के कारखाने के टुकड़ों में बनी बहुत बड़ी टोकरी

साउथ एशिया का सबसे बड़ा फूड एवं बेवरेज शो इंडस फूड 2024 (इंडसफूड) एशिया में सुनील बर्थवाल ने बताया कि रेडी टू ईट फूड प्रोडक्शन में रेड़ी टू ईट फूड का बहुत बड़ा ऑर्डर है। उन्होंने इंजीनियरों से अनुरोध किया कि वे भारतीय वास्तुशिल्पियों और सेवाओं की इच्छा को बनाए रखें, वाले भारतीयों की भिक्षुओं पर ध्यान केंद्रित करने का काम करें।

चावल, टुकड़े और चीनी के मिश्रण पर प्रतिबंध का असर नहीं होना चाहिए

इस कार्यक्रम का उद्घाटन वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल (पीयूष गोयल) ने किया, जिसमें कहा गया था कि चालू वित्त वर्ष में देश का एग्री एक्सपोर्ट 53 अरब डॉलर तक पहुंचेगा। उन्होंने राइस, मीट और शेक के ज्वैलरी पर प्रतिबंध लगा दिया, फिर भी आशा शेट्टी थी कि ज्वैलरी में कोई कमी नहीं आने वाली थी। इससे पहले खतरे की आशंका जताई गई थी कि इस प्रतिबंध के उपकरणों में लगभग 5 अरब डॉलर की कमी हो सकती है।

80 से अधिक स्ट्रेंथ प्रोडक्शन इस शो का हिस्सा बनीं

इस शो में लगभग 1200 देशों के 1200 और 7500 देशों के तीन दिव्य शो शामिल हैं। साथ ही 80 से ज्यादा स्ट्रेंथ प्रोडक्शन इस शो का हिस्सा बने हुए हैं। इनमें करफूर, खिमजी रामदास, ग्रैंड हाइपरमार्केट, नेस्टो, मुस्तफा, लुलू और स्पार जैसे बड़े नाम शामिल हैं।

ये भी पढ़ें

लक्षद्वीप: मोदी की यात्रा के बाद सारी दुनिया लक्षद्वीप को देखना चाह रही, 3400 प्रतिशत का उछाल आया

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *