Breaking
Wed. Apr 17th, 2024

[ad_1]

एलपीजी सिलेंडर @450: संसद की चल रही शीतकालीन सत्र के दौरान सरकार ने सागर में कहा था कि 450 करोड़ रुपये के जुगाड़ का सौदा उनका कोई इरादा नहीं है। भारत सरकार की तरफ से ऐसी कोई घोषणा नहीं की गई है. जागरुकता में प्रश्नकाल में पूछे गए एक प्रश्न के उत्तर में कंसल्टेंट रामाधार तेली ने ये बातें कही हैं।

450 रुपये में दलाली का विकल्प अभी बाकी है!

राज्य सरकार से सवाल किया गया कि क्या सरकार ने हाल ही में राजस्थान में 450 रुपये के पैमाने पर कोयला जलाने की घोषणा की है? उन्होंने सरकार से यह भी पूछा कि क्या केंद्र सरकार उत्तर प्रदेश समेत पूरे देश में 450 रुपये में 450 करोड़ रुपये के बिजल पैकेज पर विचार कर रही है? दोनों ने ही डुप्लिकेट का जवाब देते हुए कहा, भारत सरकार की ओर से 450 रुपये में 450 रुपये से ज्यादा के डुप्लीकेट डुप्लिकेट की कोई घोषणा नहीं की गई है।

हालाँकि, एक बात याद रखने वाली है कि अब तक स्टेट इंस्टिट्यूशन ने इस संबंध में कोई भी बयान नहीं दिया है। अगर राज्य सरकार बेकार है तो वो 450 रुपये में थोक में बिक सकती है। राज्य सरकार को ऐसा करने के लिए अपनी तरफ से न्यूनतम सीमा तय करनी होगी।

बीजेपी ने पत्र में किया वादा का ऐलान

अब सवाल यह है कि 450 किलोमीटर की दूरी पर मूर्तिकला कहाँ से आई? हाल ही में पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव हुए जिनमें राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिजोरम शामिल हैं। राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी ने अपने घोषणा पत्र में 450 रुपये में मुर्गी ऋण का वादा किया था। मध्य प्रदेश में भी बीजेपी ने अपने घोषणा पत्र में 450 रुपये में बिज्जू देने का वादा किया था. इन दोनों राज्यों के अलावा छत्तीसगढ़ में भी भारतीय जनता पार्टी सरकार बना रही है। इन त्रियालीय राज्यों में भाजपा सरकार के गठन के बाद ही ये सवाल उठाया गया कि राजस्थान और मध्य प्रदेश समेत पूरे देश में प्रधानमंत्री मिर्जा योजना के लिए 450 रुपये का घोटाला क्यों होगा?

603 रुपए में मलातूका ड्रैगन को हराया

अवलोकन केंद्र सरकार प्रधानमंत्री रोमानिया योजना के लिए 603 रुपये में अनुदान उपलब्ध करा रही है। राजस्थान मध्य प्रदेश में बीजेपी ने अपने चुनावी घोषणा में कहा है कि 450 रुपये में 450 रुपये का एजेंडा दिया गया है.

ये भी पढ़ें

IPO This Week: इस हफ्ते शेयर बाजार में होगी बड़ी हलचल, आएगी 12 आई सेल और 8 की होगी शुरुआत

[ad_2]

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *