Breaking
Sat. May 18th, 2024

[ad_1]

भारत टेक्स 2024: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली में देश में आयोजित होने वाले अब तक के सबसे बड़े वैश्विक टेक्सटाइल कार्यक्रम में से एक ‘भारत टेक्स-2024’ का उद्घाटन किया है। भारत टेक्स-2024 आज 26 फरवरी से प्रारंभ होकर 29 फरवरी तक। प्रधानमंत्री मोदी ने अब से कुछ देर पहले ही इसका उद्घाटन किया है। दिल्ली के भारत पैलेस में रेस्तरां की शुरुआत हो चुकी है।

टेक्नोलॉजी को ट्रेडिशन के संग पिरो रहा भारत टेक्स्ट-2024:मोदी मोदी

इस एक्सपो का उद्घाटन करने के बाद पीएम मोदी ने कहा कि आज का ये इवेंट सिर्फ एक टेक्सटाइल एक्सपो भर का नहीं है। इस इवेंट के एक सूत्र से कई सारी चीजें जुड़ी हुई हैं। भारत टेक्स का ये सूत्र भारत के गौरवशाली इतिहास से आज की प्रतिभा से जुड़ रहा है। भारत टेक्स का ये फॉर्मूला टेक्नोलॉजी को ट्रेडिशन के साथ पेश किया जा रहा है।

टेक्सटाइल सेक्टर का ब्रांड नाम 12 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हम भारत के विकास में कपड़ा क्षेत्र के विकास में योगदान और वृद्धि के लिए काम कर रहे हैं। भारत के टेक्सटाइल सेक्टर का वैल्यूएशन 12 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा हो गया है।

खुदरा, रिटेल और फैशन पर मुख्य फोकस

की ओर से जारी एक बयान में पहले ही बताया गया था कि प्रधानमंत्री के ‘5एफ विजन’ से प्रेरणा लेने के लिए इस कार्यक्रम में बोरा, कोर्सेज और फैशन पर मुख्य फोकस रखा गया है। पीएम मोदी ने आज कार्यक्रम में यह भी कहा कि फाइव एफ की ये यात्रा फार्म, फाइबर, फैक्ट्री, फैशन से होती हुई विदेश तक जाती है। हम टेक्सटाइल ब्रांड की चेन के सभी एलिमेंट्स को फाइव एफ के सूत्र से एक दूसरे से जोड़ रहे हैं।

नारी शक्ति का टेक्सटाइल सेक्टर के विकास में बड़ा योगदान- पीएम मोदी

कपड़े बनाने वाले हर 10 साथियों में से 7 महिलाएं हैं और हैंडलूम में तो इससे भी ज्यादा हैं। टेक्सटाइल के अलावा खादी ने भी हमारे भारत की महिलाओं को नई शक्ति दी है। पीएम मोदी ने कहा कि 10 साल पहले हमारी सरकार ने जो भी प्रयास किया, उसने खादी को विकास और रोजगार का साधन बनाया है।

भारत में विकसित टेक्सटाइल सेक्टर के योगदान और वृद्धि के लिए हम बहुत सारे विस्तृत विभागों में काम कर रहे हैं। हम 4T के अंतर्गत अर्थात व्यापार, प्रौद्योगिकी, लैपटॉप और प्रशिक्षण पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें

ट्रेन में गर्मागर्म टेस्टी खाना ऐसे हो सकता है, आईआरसीटीसी का स्विगी के साथ नियम, किन लोगों को मिलेगी सेवा? जानें

[ad_2]

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *