Breaking
Sun. Jun 16th, 2024

[ad_1]

वंदे भारत एक्सप्रेस: वंदे भारत की प्रमुखता दिन- प्रतिदिन जनसंख्या जा रही हैं। वंदे भारत में रेल यात्रियों के लिए यात्रा अनुभव अच्छा साबित हो रहा है। भारतीय रेलवे ने दक्षिणी रेलवे (दक्षिणी रेलवे) में यात्रियों की सूची में सुधार के लिए यात्री सेवा अनुबंध (YSA) नाम से एक पायलट प्रोजेक्ट शुरू किया है। इस स्कीम का उद्देश्य ट्रेन यात्रियों को वर्ल्ड क्लास स्टोर्स एक्सपीरियंस के माध्यम से अलग-अलग ब्रांड अनुभव प्रदान करना है। छह जोड़ी वंदे भारत एक्सप्रेस स्कॉलरशिप में ये YSA प्रोजेक्ट शुरू हो रहा है.

वंदे भारत कैटलॉग में यात्री सेवा अनुबंध के तहत क्या-क्या होगा

वाई एस ए प्रोजेक्ट को रेलवे कैटरिंग और हाउसकीपिंग में सार्टी फ़्रेम ट्रैक रिकॉर्ड वाले सेवा प्रदाता की पेशकश के लिए लागू किया जाना है। हर एक कोच में साफा-सफाई अच्छी तरह से हो रही है या नहीं, ये देखने के लिए एक ट्रेंड हाउस की पिंचिंग स्पेशलिस्ट की जाएगी। इसके माध्यम से रेल यात्रियों को शुरुआती और अंतिम ऑक्सफोर्ड पर कैब कोच, व्हीलचेयर और बग्गी ड्राइव जैसी मदद भारतीय रेलवे से मिलती है।

वर्ल्ड क्लास अत्याधुनिक एक्सपेरिएंस दिलोई भारतीय रेलवे

रेल यात्रियों को प्रारंभिक और गंतव्य गंतव्य पर कैब कोच, व्हीलचेयर और बग्गी ड्राइव रेलवे सहायता रेलवे से। यात्रियों को ऑनबोर्ड इंफोटेनमेंट सिस्टम पर क्वालिटी कंटेंट का आनंद मिलता है, जो डेटा स्टेडिम, ब्रॉडकास्टिंग और इंटेलेक्चुअल एमिरेट्स रिस्ट से जुड़े फीचर्स का रखरखाव करता है। जल्द ही एक और नोटबुक में भी अवैध काम किया जा सकता है।

भोजन-पीने से जुड़ी सुविधा

रेल यात्री टिकट बुक करने का समय या यात्री सेवा ऐप के माध्यम से प्री-पेड खाने का ऑर्डर कर सकते हैं। ये लोग ला कार्टे सर्विसेज का चयन कर सकते हैं। किसी भी उपकरण के सामान में बीफ और पोर्क का इस्तेमाल नहीं किया जाएगा। फूड एंड बेवरेजेज ग्रुप के अवलोकन के लिए हर वंदे भारत ट्रेन में उत्पाद (कॉन्ट्रेक्टर) के पास एक काबिल स्पेस होगा।

कॉन्ट्रेक्टर को क्या-क्या दिखाना होगा

पहला
कॉन्ट्रेक्टर के पास फ़ार्म एंड हाउस की पिंजिंग ट्रेनिंग वाले असामेटी गारमेंट होना चाहिए। रेलवे समय-समय पर उनके पैलेशन और डॉक्यूमेंटेशन की समीक्षा।

दूसरा
चेन्नई में एक साफ़ और बड़ी रसोई जिसमें हर दिन कई तरह के व्यंजन बनाए जा सकते हैं। व्यापारियों को यह दिखाना होगा कि वे पहले भी कई बार खाद्य पदार्थ दे चुके हैं।

वंदे भारत रूट

दक्षिणी रेलवे में वंदे भारत की ट्रेनें कई रूटों पर चलती हैं। चेन्नई-मैसूर, चेन्नई-तिरुनेलवेली, चेन्नई-कोयम्बटूर, तिरुवनंतपुरम-कासरगोड और चेन्नई-विजय ऑटोमोबाइल पर वंदे भारत ट्रेन का संचालन हो रहा है। रूटस्ट का अनाउंसमेंट अभी बाकी है।

इलेक्शन का फैंटेसी गेम, जीतें 10,000 तक के गैजेट्स 🏆
*नियम एवं शर्तें लागू
https://bit.ly/ekbabplbanhin

ये भी पढ़ें

अरहर दाल की खेती से जनता परेशान, सरकार ने बनाया राहत का ये मेगा प्लान; नीचे उतरें दम

[ad_2]

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *