Breaking
Tue. Apr 23rd, 2024

[ad_1]

खाद्य चोरी: कभी पूरी दुनिया पर राज करने वाले देश की जनता अब भूखों मर रही है। आलम यह है कि लोग चोरियां कर के ब्लैक मार्केट में खाना बेच रहे हैं। यह खराब ब्रिटेन के लोगों की हो रही है, जहां शॉप ट्रेडिंग के मामलों में जबरदस्त उछाल आया है। लोग बड़े अखबारों से खाने-पीने का सामान चुराकर ब्लैक मार्केट में बेच रहे हैं। इसके लिए देश में ‍फ़ॉलो ‍कॉलेज को दोष दिया जा रहा है।

चोरी वाले सामान की कीमत लगभग 1 अरब पाउंड है

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, ब्रिटेन में शॉपिंग केस के रिकॉर्ड में संख्या दर्ज की गई है। इन आंकड़ों के आधार पर गार्जियन ने बताया कि बड़े पैमाने पर बैंकों में चोरी की घटनाएं तेजी से बढ़ रही हैं। ब्रिटिश स्टैटिस्टिक्स कंसोर्टियम के अनुमान के अनुसार, 2023 में चोरी हुए सामान की कीमत लगभग 1 अरब पाउंड (1.3 अरब डॉलर) है। इसके अलावा गृह मंत्रालय के आँकड़े भी छात्रों के हैं जो देश में शॉपिंग कोचिंग के आँकड़े रिकॉर्ड संख्या को पार कर चुके हैं। साथ ही ऐसी अनसुलझी कहानियों के आंकड़े भी तेजी से बढ़ रहे हैं।

मसाले, वस्तुएँ और मिठाइयाँ जैसी वस्तुएँ चुराए हुए लोग

रिपोर्ट के मुताबिक, सबसे ज्यादा चोरी की जाने वाली चीजें नीग्रो में मीट, चीजें और मिठाइयां शामिल हैं। ऐसे में इसकी बिक्री आसानी से हो जाती है। लोगों की मार झेल रहे लोग तुरंत खरीद लेते हैं। इन खाने-पीने के टुकड़ों की स्टेरी और ट्रक से जा रही है।

कॉस्ट ऑफ लिविंग ग्रोथ की मार नहीं झेल रही जनता

ब्रिटेन में कोस्ट ऑफ लिविंग ग्रोथ की वजह से लोग अब ऐसे अनोखे आविष्कार की तलाश कर रहे हैं। ब्रिटिश इंडिपेंडेंट स्ट्रैटेजी कंपनी असोसिएशन के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एंड्रू गुडेकर ने कहा कि जरूरतमंदों की जरूरतों के लिए लोग कम लागत वाले क्रिएटिव की तलाश कर रहे हैं। जिन सराफा में कभी चोरी नहीं हुई वहां भी लोग चंद वसीयत में पूरी की पूरी दुकान साफ ​​कर देते हैं। इसकी सबसे बड़ी वजह ब्लैक मार्केट में अलग-अलग टुकड़े हुए टुकड़े हैं।

ग्रॉसरी इंडस्ट्रीज बिना व्‍यापक वर्धित रिमोट शोरूम

रिपोर्ट के मुताबिक, देश में किसानों के स्मार्टफोन बहुत तेजी से बढ़ रहे हैं। देश में खाद्य गरीबी चरम पर है। फार्म बैंक भी लोगों को जीवित रहने के लिए भोजन दे रहे हैं। फार्म बैंक से उन्हें पोषक आहार नहीं मिल रहा है। लोगों के पास पैसा नहीं है. उसने अपने परिवार को मनाकर थका दिया है इसलिए चोरों की संख्या आधी जा रही है। हाल ही में एआई कंपनी कंपनी एंड मार्केट अथॉरिटीज (सीएमए) की रिपोर्ट के मुताबिक, देश के बड़े ग्रॉसरी बिजनेसमैन के मुताबिक वैश्विक स्तर पर तेजी से गिरावट जारी है। सीएमई की रिपोर्ट के अनुसार, अक्टूबर में बकाया दर 10.1 फीसदी से नीचे चली गई थी। मगर, अब वह फिर से ऐतिहासिक रूप से ऊपर हैं।

ये भी पढ़ें

अयोध्या राम मंदिर: अयोध्या में राम मंदिर के उद्घाटन से पहले ही रियल एस्टेट सेक्टर को लगा पंख, हवा में उड़ रही जमीन की जमीन

[ad_2]

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *