Breaking
Sat. May 18th, 2024

[ad_1]

रेलवे सेवानिवृत्त पेंशन: कोलकाता बेस्ड बॉन्ड बैंक ने घोषणा की है कि उसे भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने रेलवे मंत्रालय (रेल मंत्रालय) की ओर से पेंशन वितरण के लिए अधिकृत किया है। इसके तहत बंधन बैंक को ई-पी के माध्यम से रेलवे के कर्मचारियों को पेंशन पेंशन की गारंटी दी गई है। देश के प्राइवेट लैंडर में से एक बैंक की ओर से बयान जारी किया गया है।

बंधन बैंक की ओर से बयान जारी

बंधन बैंक की विज्ञप्ति में कहा गया है कि पेंशन डिस्ट्रीब्यूशन स्टॉक को शुरू करने के लिए बैंक जल्द ही अपने सिस्टम को रेल मंत्रालय के साथ इंटीग्रेट करना शुरू कर देगा। आरबीआई के इस स्वीकृत से बंधन बैंक को देश भर में रेलवे के 17 रीजनल ऑफिस और आठ उत्पादन इकाइयों के लिए हर साल करीब 50,000 उपभोक्ता लोगों की सेवा करने का मौका और उन तक पहुंच जाएगा।

जानें जज की खास बातें

  • पेंशन डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी को बंधन बैंक के संचालन के लिए शीघ्र ही रेल मंत्रालय के साथ इंटीग्रेशन कर देना होगा।
  • बंधन बैंक को रेल मंत्रालय के सभी कर्मचारियों को पेंशन नवीनीकरण का मौका मिलेगा जो भारतीय रेलवे में सेवा से समाप्त हो गए हैं।
  • लगभग 12 लाख इंटरनेट की संख्या के साथ भारतीय रेलवे देश का सबसे बड़ा नियोक्ता है और इस कदम से बंधन बैंक को बड़ा बढ़ावा मिलेगा।

बैंक के बांड ने क्या कहा

बंधन बैंक के कॉर्पोरेट बिजनेस चीफ देबराज साहा उन्होंने कहा कि “वित्त मंत्रालय, रेलवे और आरबीआई का आदेश हमारे बैंक में रेग्युलेटर और सरकार की मान्यता का प्रमाण है। भारतीय रेलवे देश के सबसे बड़े नियोक्ता में से एक है। रेलवे के विशेषाधिकारों को पेंशन दिग्गजों की अथॉरिटी मीटिंग से बंधन बैंक को आपके सर्वोत्तम उत्पादों और उत्पादों के साथ उनकी सेवा का अवसर मिलता है।

बंधन बैंक के बारे में जानें

बंधन बैंक की ओर से पेंशनर्स को इसके 1640 से बड़े बैंक और श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ डिजिटल प्लेटफॉर्म मंच तक पहुंच है। यह बैंक में ऑफर की रही सबसे अधिक कॉम्पिटिटा ब्याज दर का लाभ भी कंपनी के कर्मचारियों को देता है।

ये भी पढ़ें

सैट ने सेबी के फैसले में फिर से बदलाव किया, जिओ उपभोक्ताओं पर लगा जुर्माना, मुकेश अंबानी को दी राहत

[ad_2]

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *