Breaking
Sat. Feb 24th, 2024


बीता साल (2023) के लिए रियल एस्टेट मिला-जुला रहा। विशेष रूप से विश्लेषण के लिए स्थिति कहीं धूप- कहीं छाया वाली रही। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली (दिल्ली-महाराष्ट्र) में पिछले वर्ष के दौरान क्रैडल की डिक्लेयर में लालची छाई रही, जबकि मुंबई में क्रैडल में तेजी आई। साल के अंत में मुंबई में इसकी यात्रा एक बार फिर से देश का सबसे बड़ा स्टॉक मार्केट बन गई। एक दिलचस्प रिपोर्ट जारी की. रिपोर्ट में सेक्टर के ट्रेंड व आंकड़े की जानकारी दी गई। रिपोर्ट के मुताबिक, मुंबई में एक साल के दौरान 1.5 लाख यूनिट के घर भी निकल गए। मुंबई में बाइक चोरी का मामला दिल्ली में एक साल के दौरान तीसरी जगह पर रहने वाले के साथ हुआ।

मुंबई में बाइक तीन घर

एनारोक रिसर्च के आंकड़े हैं कि 2023 में मुंबई मेट्रोपॉलिटन रीजन में 1,53,870 घर खत्म हो गए। यह एक साल पहले की तुलना में 40 प्रतिशत अधिक है। इससे एक साल पहले यानि साल 2022 में मुंबई में 1,09,730 घरों की बिक्री हुई थी। नई संपत्ति की लॉन्चिंग के मामले में भी 2023 में रिकॉर्ड बन गया. पिछले साल के दौरान मुंबई में 1,57,700 नए रिकॉर्डर की लॉन्चिंग हुई, जो एक साल पहले 2022 की तुलना में 27 फीसदी ज्यादा है। इस दौरान घर की औसत कीमत 15 प्रतिशत से अधिक 13,700 रुपये प्रति स्क्वेयर फ़ुट हो गई। दिल्ली- 2023 के दौरान 65,625 घरों की बिक्री हो पाई। इस साल भर पहले यानी 2022 की तुलना में सिर्फ 3 प्रतिशत ज्यादा है, जब 63,710 घरों की बिक्री हुई थी। इस दौरान नई लॉन्चिंग में 36 प्रतिशत की तेजी आई और संख्या 36,735 यूनिट रही। हालाँकि यह संख्या कई अन्य शहरों से बहुत कम चल रही है। हुआ. 2023 में पुणे ने दिल्ली-दुकान के मामले में दूल्हे को पीछे छोड़ दिया। पिछले साल पुणे में 86,680 यूनिट की बिक्री हुई। आम तौर पर दूसरा सबसे बड़ा बनने वाला बाजार वाला दिल्ली- इस बार तीसरा स्थान प्राप्त हुआ है।

ये भी पढ़ें: टेल कंपनी ने दिया नए साल का मैदान, पहले दिन से इतनी कम कीमत पर मिला सामान

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *