Breaking
Sun. Jun 16th, 2024

[ad_1]

शेयर बाजार: देश की आर्थिक प्रगति का हिस्सा बनने को जनता बेताब है। शेयर बाजार में पिछले कुछ समय से जारी भारी तेजी ने नए निवेशकों का रूझान बाजार की ओर कर दिया है। दिसंबर, 2023 में देश में डीमैट अकाउंट का नया रिकॉर्ड बन गया है। पिछले महीने देश में लगभग 42 लाख नए डीमैट की बिक्री हुई। इसके देश में डीमैट खाते की संख्या 13.9 करोड़ तक पहुंच गई। वित्त वर्ष 2023-24 में हर महीने नये बेरोजगारों का औसत 21 लाख है। मगर, दिसंबर में लगभग दोगुने की खरीदारी हुई।

एक महीने में ही डबल हुआ किरदार

ब्रोकरेज फर्म मोतीलाल ओसवाल के आंकड़े के अनुसार, नवंबर, 2023 में 28 लाख नए डीमैट खाते खोले गए थे। दिसंबर, 2023 में यह किरदार लगभग डबल हो गया। डीमैट अकाउट सोसायटी में आई इस तेजी की वजह फोनो फैक्टर (Fकान का गायब होना) को बताया जा रहा है.

आई.सी.एस.आई.सी.बाज़ार में उछाल के उद्घाटन खाते रहे

एयूएम कैपिटल वेल्थ के नेशनल हेड मुकेश कोचर ने बताया कि शेयर बाजार रोज नया-नया रिकॉर्ड बना रहा है। उद्यम को इस तेजी से मजबूत लाभ हो रहा है। इसके अलावा आई डिजिटल मार्केट में भी उथल-पुथल देखने को मिलती है। उनका कहना है, सबसे ज्यादा डीमैट चार्टर्ड अकाउंटेंट लैपटॉप में निवेश के लिए खरीदारी की जा रही है। हालाँकि, उन्होंने सलाह दी कि लोगों के अफवाहों का आधार स्टॉक्स में पैसा नहीं होना चाहिए। लोगों को लंबे समय के लिए निवेश की जरूरत है. साथ ही एएसपी का भी उन्हें साथ नहीं रखना चाहिए। उन्होंने कहा कि बाजार अपने लाभ स्तर पर है। यहां से कभी-कभी लिफ्टपटक भी हो सकता है.

मैडम ने पिछले साल 20 प्रतिशत रिटर्न दिया

साल 2023 मेडेस्क ने करीब 20 प्रतिशत का शानदार रिटर्न दिया है। यह लगातार आठवें साल का है, जब इसमें तेजी से गिरावट आई। इक्विटी में स्थिरता, स्थिरांक के नियंत्रित आंकड़े, निरपेक्षता का बढ़ा हुआ प्रवाह, संतृप्ति को हो रही आय से यह तिमाही की लाभांश रेटिंग जारी की गई हैं।

ऑनलाइन ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म भी आगे बढ़ रहे हैं

बिजनेस स्टैंडर्ड की रिपोर्ट के अनुसार, इस अवधि में जेरोडा (ज़ेरोधा) का दबदबा बुलंदियों पर 67 लाख तक पहुंच गया। हालाँकि, कंपनी की बाज़ार हिस्सेदारी में 18.6 प्रतिशत की कमी आई है। एंजेलवन (एंजेलोन) के कस्टमर 53 लाख बाजार और शेयर बाजार 14.8 फीसदी हो गया। अपस्टॉक्स (अपस्टॉक्स) शेयर बाजार 23 लाख और बाजार 6.3 फीसदी हो गया है। इस दौरान ग्रॉस के उपभोक्ता 76 लाख हो गए और मार्केट शेयर 21 फीसदी तक पहुंच गया. एमआईएससी (आईएसईसी) की शेयर बाजार हिस्सेदारी 19 लाख और बाजार हिस्सेदारी 5.2 फीसदी रही। आईआईएफएल (आईआईएफएल) का शेयर बाजार 4 लाख और शेयर बाजार 1.1 फीसदी रहा।

ये भी पढ़ें

एनएफओ अलर्ट: माइक्रोवेव और फार्मास्युटिकल सेक्टर में उतरे दो एनएफओ, लंबी अवधि में अच्छा रिटर्न दे सकते हैं

[ad_2]

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *