Breaking
Wed. Apr 17th, 2024


भारत के औद्यौगिक घरों में टाटा समूह की उपस्थिति विशिष्ट है। अब टाटा ग्रुप के साथ एक और विशेष बात जुड़ने वाली है। देश में ऐसा पहली बार हो सकता है, जब किसी शहर का प्रशासन एक ऐतिहासिक घर के पास हो।

टाटा ग्रुप के संस्थापक ने बसाया सिटी

यह मामला है झारखंड के सबसे प्रमुख शहरों में गिने जाने वाले सबसे अमीरों का, गिनती के देशों के प्रमुख औद्योगिक उद्योगों में भी शामिल है। भारत का पहला प्लान्ड शहर है। शहर की स्थापना टाटा ग्रुप के द्वारा ही की गई है। इस शहर को बसाने का श्रेय टाटा ग्रुप के संस्थापक जमशेदजी टाटा को दिया जाता है। शहर को उनका ही कारण नाम मिला है.

बिना नगर वाला निगम अकेले शहर

झारखंड के इस प्रमुख शहर में ही देश का सबसे पहला स्टील प्लांट भी है। यह व्युत्पत्ति: देश का अकेला ऐसा शहर है, जनसंख्या एक लाख से अधिक होने के बाद वहां नगर निगम नहीं है। अभी शहर की आबादी करीब 17 लाख है. शहर की स्थापना के बाद टाटा ग्रुप लंबे समय से प्रशासन संभाल रहा है, लेकिन पिछले कुछ वर्षों से कानूनी बाधाओं में फंस गया है।

5 साल पहले हुई बिल्डिंग पी.आई.एल

इस संबंध में सुप्रीम कोर्ट में करीब 5 साल पहले एक जिल्द की मूर्ति निकली थी। मिंट की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि सुप्रीम कोर्ट में अगले साल जनवरी तक लीबिया पर फैसला आ सकता है। गोदाम के गोदाम की रिपोर्ट में बताया गया है कि मामले को लेकर बातचीत अंतिम चरण में है। इस बात पर बातचीत चल रही है कि एक म्यूनिसिपल काउंसिल नामांकित हो, जिसमें टाटा स्टील के प्रतिनिधि, सरकार द्वारा नामित सदस्य और कुछ स्थानीय लोग शामिल हों।

इस कानूनी बदलाव से बन सकती है राह

वहीं झारखंड सरकार इस संबंध में एक कानूनी बदलाव करने की तैयारी में है. मिंट की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि राज्य सरकार को औद्योगिक पोर्टफोलियो का दर्जा दिया जा सकता है, जिसके बाद शहर के प्रशासनिक नियंत्रण टाटा समूह के हाथों में राह की कानूनी बाधाएं दूर हो सकती हैं। ग्रुप के इस संबंध में केंद्र सरकार के साथ भी बातचीत चल रही है। हालाँकि इस बारे में अब तक किसी सरकार की ओर से कुछ आधिकारिक तौर पर कहा गया है, लेकिन टाटा ग्रुप या टाटा स्टील ने कोई बयान नहीं दिया है।

ये भी पढ़ें: महिंद्रा सपोर्टेड इस प्लांट की तैयारी में 600 मिलियन डॉलर की लागत आ रही है

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *