Breaking
Thu. Jun 20th, 2024

[ad_1]

बीमा की दावा: जीवन बीमा कंपनी को कोरोना के चलते बड़ा नुकसान हुआ था। कोरोना काल में हुई डकैती के चलते उन्हें बड़ी संख्या में क्लेम का भुगतान करना पड़ा। हालाँकि, अब इन एजेंसियों को राहत मिल गई है। कोविड-19 में बढ़ी अचल संपत्ति कंपनियों के वित्त वर्ष 2022 में लगभग 60,821.86 करोड़ रुपये के अचल संपत्तियों की बिक्री हुई। हालांकि, वित्त वर्ष 2023 में यह आंकड़ा 19,000 करोड़ रुपये कम होकर 41,457 करोड़ रुपये ही रह गया है।

इरडा ने जारी की रिपोर्ट

इंश्योरेंस इंश्योरेंस इरडा (IRDAI) के मुताबिक, लाइफ इंश्योरेंस इंश्योरेंस को 2022-23 के दौरान कुल 4.96 ट्रिलियन रुपये का कुल भुगतान किया गया। इससे पिछले वित्त वर्ष का 5.02 ट्रिलियन रुपये का भुगतान लगभग 6000 करोड़ रुपये कम है। इरडा की रिपोर्ट के मुताबिक, कोविड के बाद देश में गंदगी और संबंधित क्लेम की संख्या में तेजी से कमी आई है।

वित्त वर्ष 2022 में लिखा गया था कोरोना की मार

इरडा के मुताबिक, वित्त वर्ष 2022 के दौरान कोविड-19 के दौरान बीमा उद्योग बुरी तरह से चपेट में आ गया। इंश्योरेंस कंपनी को इस दौरान 60 हजार करोड़ रुपये से भी ज्यादा का क्लेम देना पड़ा। वित्त वर्ष 2023 में यह संख्या भी काफी कम हुई है। फाइनेंस 2022-23 में सरेंडर और विड्राल के मैड में कंपनी ने 1.98 ट्रिलियन साल का भुगतान किया, जो कि 26 फीसदी ज्यादा है। इस नोट में पब्लिक सेक्टर की सोसायटी 56.27 फीसदी रही।

क्लेम सेटलमेंट अनुपात में आई कमी

वार्षिक रिपोर्ट में कहा गया है कि वर्ष 2022-23 के दौरान लाइफ इंश्योरेंस कंपनी ने डेथ क्लेम में कुल 10.76 लाख करोड़ का भुगतान किया। इसकी कुल राशि 28,611 करोड़ रुपये थी। साल के अंत में 350 करोड़ रुपए के 833 क्लेम अभी भी नए नहीं हैं। सार्वजनिक सेक्टर बीमा निगम का क्लेम सेटलमेंट अनुपात 31 मार्च, 2023 तक 98.52 प्रतिशत था। 31 मार्च, 2022 को येशी पात्र 98.74 प्रतिशत था। प्राइवेट सेक्टर इंश्योरेंस सोसायटी का क्लेम सेटलमेंट 2022-23 के दौरान 98.02 प्रतिशत था जबकि पिछले साल के दौरान यह 98.11 प्रतिशत था। बीमा उद्योग का क्लेम सेटलमेंट अनुपात 2021-22 में 98.64 प्रतिशत से निवेश 2022-23 में 98.45 प्रतिशत हो गया।

ये भी पढ़ें

बिना बिके घर: ग्रेटर सेक्टर में आई.पी.जी., दिल्ली में बिना बाइक वाले घरों की संख्या में रिकॉर्ड कमी

[ad_2]

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *