Breaking
Sat. Feb 24th, 2024


चीन में अपस्फीति: दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी इंडस्ट्री इंडस्ट्री पिछले लंबे समय से खराब दौर से गुजर रही है और अब इसे लेकर एक और चिंता की खबर आई है। देश में अपस्फीति यानी डिफ्लेशन में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। रायटर्स की रिपोर्ट के अनुसार नवंबर 2023 में चीन में उपभोक्ता बाजार में तीन साल में सबसे तेजी से गिरावट का अनुमान लगाया गया है और नवंबर 2022 और अक्टूबर 2023 तक उपभोक्ता बाजार दर (सीपीआई) में 0.5 प्रतिशत तक की गिरावट आई है।

चीन में मुद्रास्फीति के पीछे क्या कारण है?

नेशनल ब्यूरो ऑफ स्टैटिस्टिक्स (एनबीएस) द्वारा जारी आंकड़े के अनुसार चीन में डिफ्लेशन की स्थिति पैदा हुई है। इसके पीछे कई कारण हैं, लेकिन फ़्राईड डोमेस्टिक फ़्लोरिडा ने रियल एस्टेट को धीमा करने के साथ ही देश में रेज़्यूमे की कमी की है। सीपीआई में लगातार आ रही कमी देश को डिफ्लेशन की तरफ ले जा रही है।

उम्मीद है कि सबसे ज्यादा हुई प्रविष्टि डिफ्लेशन

समाचार एजेंसी रायटर्स के सर्वेक्षण के अनुसार नवंबर 2023 में तिमाही दर में आंकड़े और महीने के आधार पर 0.1 प्रतिशत कम रहने का आकलन किया गया था, लेकिन वास्तविक आंकड़े बड़े पैमाने पर झटके वाले हैं। देश में एक महीने और वर्षगाँठ में दोनों के आधार पर 0.5 प्रतिशत से भी कम की गिरावट आई है। चीन में डिफ़्लेशन की स्थिति पर स्टार्स ने कहा है कि ये दस्तावेज़ बाज़ार हैं।

वैश्विक बाजारों में कच्चे तेल की कमी, पूर्वी एशिया में लोगों द्वारा कमोडिटी व्यापारियों और खुदरा श्रृंखलाओं में अशांति को इसके लिए जिम्मेदार ठहराया गया है। चीन में नवंबर 2023 में ऊर्जा और मुख्य भोजन-पीने की नीबी की आबादी दर 0.6 प्रतिशत रही है। वहीं देश में उत्पादक मूल्य निर्माता (पीपीआई) में लगातार 14वें महीने का अनुमान लगाया गया है और यह 3 प्रतिशत तक पहुंच गया है। वहीं एडवेस्टर्स ने पीपीआई 2.8 फीसदी रहने की उम्मीद जताई थी।

‘डिफ्लेशन’ क्या है?

किसी भी देश की उपज में गिरावट को ‘डिफ्लेशन’ या ‘अपस्फीति’ कहा जाता है। इस देश में खाने-पीने से लेकर ऊर्जा तक के मानक हो जाते हैं, लेकिन इस उद्योग के लिए अच्छा नहीं होता है। इससे बिजनेस और कंपनी के मुनाफ़े पर बुरा असर पड़ता है। अपस्फीति के पीछे मुख्य कारण यह है कि बाजार में थोक और मांग कम है। फ़्रॉस्ट चेन में अंतर से डिफ्लेशन की स्थिति का जन्म होता है।

ये भी पढ़ें-

स्पेशल एफडी स्कीम: ब्याज देने वाली तीन स्पेशल एफडी स्कीम 31 दिसंबर को हो रही खत्म, निवेश का है आखिरी मौका!

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *