Breaking
Thu. Jun 20th, 2024

[ad_1]

अदानी समूह की योजनाएँ: देश के दूसरे सबसे अमीर उद्योगपति गौतम अडानी का अडानी समूह अगले एक दशक में देश में 7 लाख करोड़ रुपये यानी 84 अरब निवेश करने की योजना बना रहा है। ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक, अडानी ग्रुप के मुख्य निवेशक जुगेशिंदर सिंह ने कहा, हम और बड़े पैमाने पर निवेश करने की योजना बना रहे हैं। हालाँकि उन्होंने इस विषय पर अधिकतर कुछ बोलने से मना कर दिया।

इस साल जनवरी 2023 में अमेरिकी शॉर्टसेलर हिंडनबर्ग रिसर्च ने अपनी रिपोर्ट में एड ग्रुप पर हेराफेरी कर स्टॉक को भागेने के आरोप की रिपोर्ट जारी की थी। जिसके बाद अदानी ग्रुप के स्टॉक्स में बड़ी गिरावट देखने को मिली थी। हालाँकि अडानी ग्रुप ने इन सहयोगियों को रेस्टॉरेंट से खारिज कर दिया था। लेकिन इन दावों को लेकर अडानी ग्रुप की छवि से ग्रुप के लिस्टेड स्टॉक्स के मार्केट कैप में भारी कमी आ गई थी। अफनी वल्गर कंपनी अडानी इंटर्नशिप के एफ सिपहसालार को भी वापस ले लिया गया था। इन निवेशकों से ग्रुप की छवि को जो धक्का लगा है उसके बाद अडानी ग्रुप के नुकसान की भरपाई करने के लिए बड़े निवेश करने की रणनीति तैयार की गई है।

हिंडनबर्ग के फ़सल के बाद मुकदमा सुप्रीम कोर्ट जाब्ता। कोर्ट ने शेयर बाजार के रेगुलेटर सेबी को जांच के आदेश दिए। सेबी ने कोर्ट को अपनी जांच रिपोर्ट दर्ज कराई है। अदालत ने सुनवाई पूरी करने के बाद निर्णय सुरक्षित रखा। सेबी ने अदालत को निर्देश दिया कि उसे जांच पूरी करने के लिए समय की आवश्यकता नहीं है। यह खबर सामने आने के बाद मंगलवार 28 नवंबर को अडानी ग्रुप के स्टॉक में तेजी से देखने को मिली थी। एक ही दिन में ग्रुप के मार्केट कैप में एक लाख करोड़ रुपये से ज्यादा का उछाल देखने को मिला जो कि जनवरी 2023 के बाद सबसे ज्यादा था।

जुलाई 2023 में ग्रुप के सुपरस्टार गौतम अडानी ने पोर्ट्स, एनर्जी और बिजनेस के बड़े पैमाने पर विस्तार करने का खुलासा किया था। अडानी ग्रुप को सबसे बड़ी राहत तब मिली जब अमेरिकी सरकार की एजेंसी ने अडानी ग्रुप के पोर्ट प्रोजेक्ट में वित्तीय मदद देने की घोषणा की थी।

ये भी पढ़ें

शादी के खर्च की रिपोर्ट: शादी का खर्च उठाने के मामले में महिलाओं ने पुरुषों को छोड़ा पीछे, 60% खुद करना चाहती हैं फंडिंग

[ad_2]

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *