Breaking
Wed. Jun 19th, 2024

[ad_1]

गो फर्स्ट सीईओ का इस्तीफा: पिछले सात महीने से बंद पड़े एयरलाइंस गो फर्स्ट (गो फर्स्ट एयरलाइन) के सीईओ कौशिक खोना (सीईओ कौशिक खोना) ने आखिरकार छुट्टी दे दी है। वैजाइना घोषित होने की कार्रवाई पहले ही शुरू कर दी गई है। उन्होंने कंपनी के कर्मचारियों को एक मेल पर अपनी छुट्टी की जानकारी दी। इसमें उन्होंने कहा कि भारी मन से मैं आपको बता रहा हूं कि 30 नवंबर कंपनी में मेरा आखिरी दिन है। कंपनी में आगे बढ़ने की पूरी क्षमता है। मगर, यह हमारा दुर्भाग्य है कि रिजोल्यूशन प्रोफेशनल (आरपी) किसी को तलाशने में नाकाम रहे, जो फर्स्ट को आगे ले जा सके। चीज़ें मेरे नियंत्रण के बाहर हो गई।

ईमेल में क्या लिखा

इस ईमेल में खोना ने लिखा है कि मैं 2020 में सीईओ के पद पर यात्रा के साथ आया हूं। मेरे दूसरे संदेश में आप सभी ने मेरा मजबूत सहयोग और समर्थन किया। इसकी मदद से मैंने अपनी जिम्मेदारियां पूरी करने की कोशिश की। आगे भी मैं संपूर्ण सहयोग देता हूं। हमें उम्मीद थी कि जून, 2023 से विमान सेवा शुरू होगी। मगर, दुर्भाग्य से ऐसा हो ना सका. बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने निरस्त घोषित होने की कार्रवाई शुरू कर दी है। इससे पहले 2008 से 2011 तक पहली बार गाना गया था तब भी काम कर रहे थे। यह कंपनी के साथ उनका दूसरा स्वामित्व था.

बोले- मैं चाहता हूं कि सभी कर्मचारियों को वेतन मिल जाए

कौशिक खोना ने लिखा कि कर्मचारियों ने पूरी जिम्मेदारी और धैर्य के साथ काम किया। मगर, 6 महीने से हमें वेतन भी नहीं मिल रहा है। इसके लिए हमने एपी, कमेटी ऑफ क्रेडिटर्स और वाडिया ग्रुप से भी मांग की। लेकिन, हमारी पूरी कोशिशों के बावजूद हम असफल हो गए। मैं चाहता हूं कि आप सभी को वेतन मिल जाए। मगर, मैं अब और यहां नहीं रह सकता। इसलिए, मैंने जाने का निर्णय लिया है। मैं माफ़ी माँगता हूँ.

इंजन की समस्या फेल हुई रेलवे

गो फर्स्ट की उड़ान 3 मई से ही बंद है। अमेरिकी कंपनी प्रैट एंड व्हिटनी के इंजनों की वजह से फर्स्ट कंपनी ने अपने मूल एयरक्राफ्ट को बंद कर दिया। उसके पास नकदी की कमी हो गई और पूरे पैसे भी नहीं बचे। कंपनी का दावा है कि इंजन की समस्या से 3 साल में करीब 8.9 हजार करोड़ रुपये का नुकसान हुआ। गो फर्स्ट वाडिया ग्रुप की बजट लाइन है। इसकी पहली उड़ान नवंबर, 2005 में मुंबई से लखनऊ के बीच हुई थी। इसे गो एयर के नाम से जाना जाता था। एयरलाइंस ने 2021 में अपना नाम पहली बार रखा था।

इलेक्शन का फैंटेसी गेम, जीतें 10,000 तक के गैजेट्स 🏆
*नियम एवं शर्तें लागू
https://bit.ly/ekbabplbanhin

ये भी पढ़ें

नए अरबपति: काबिलियत पर भारी पड़ रही विरासत, नए अरबपतियों की सूची में ताज़ा विवरण

[ad_2]

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *