Breaking
Mon. May 20th, 2024

[ad_1]

ओएनजीसी तेल उत्पादन: सरकारी तेल विपणन कंपनी ऑयल एंड नैचुरल गैस ग्रिड (ओ नागासी) ने बंगाल की खाड़ी में कृष्णा गोदावरी वैली में ग्रीन सी प्रोजेक्ट (डीपी वॉटर ब्लॉक) से तेल उत्पादन शुरू कर दिया है। कंपनी से जानकारी मिली है कि ओ नागासी ने केजी-डीडब्लूएन-98/2 ब्लॉक में अरेस्ट-2 प्रोजेक्ट से उत्पादन शुरू कर दिया है। पहले सहयोगी हरदीप सिंह पुरी ने फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एक्स पोस्ट के जरिए ओ नागसी की इस बड़ी उपलब्धि पर खुशी की गारंटी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुशी जताते हुए पोस्ट किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज सीईओ हरदीप सिंह पुरी के ट्वीट को रीट्वीट करते हुए लिखा कि- ”यह भारत की ऊर्जा यात्रा में एक उल्लेखनीय कदम है और आत्मनिर्भर भारत के हमारे मिशन को बढ़ावा देता है। इससे हमारी इंडस्ट्री को भी कई फायदे होंगे।”

ओएनजीसी को गंभीर समंदर से तेल निकासी 2 को चालू करने में देरी क्यों हुई

रियल एस्टेट कंपनी के मजबूत-2 तेल का उत्पादन नवंबर, 2021 तक शुरू हो गया था। कोविड महामारी के कारण यह चलन में आ गया और इस नवंबर 2021 की शुरुआत जनवरी 2024 तक चालू हो गया है। ओ.एस.आई. ने अरेस्ट-2 तेल की पहली डेडलाइन मई, 2023 में दी थी। इसके बाद अगस्त, 2023, सितंबर 2023, अक्टूबर, 2023 और अंतिम दिसंबर, 2023 में किया गया था। अब औपचारिक रूप से यह काम शुरू हो गया है और तेल का उत्पादन शुरू हो गया है। ऐसा होने के बाद कंपनी ने कहा कि इससे उसे पुराने उत्पाद में गिरावट के रुख को पलटने में मदद मिलेगी।

हरदीप सिंह पुरी ने साझा की जानकारी

रविवार सुबह श्योपाल के मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने ओ नागसी की इस उपलब्धि पर खुशी की उपलब्धि हासिल की और इसकी सार्वजनिक जानकारी देने वाला ट्वीट किया था। उन्होंने लिखा कि-

“प्रधानमंत्री@नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में भारत में सबसे तेजी से उद्योग जगत तेजी से आगे बढ़ रहा है। #कृष्णगोदावरी की सबसे गहरी सीमा से हमारा ऊर्जा उत्पादन भी बढ़ने वाला है। “पहला तेल” का उत्पादन बंगाल की खाड़ी तट पर स्थित जटिल और कठिन पानी केजी-डीडब्ल्यूएन-98/2 ब्लॉक से शुरू होता है। इस परियोजना से वर्तमान राष्ट्रीय तेल उत्पादन में 7 प्रतिशत और राष्ट्रीय नैचुरल गैस उत्पादन में 7 प्रतिशत का इजाफा होने की उम्मीद है! प्रति दिन 45,000 पाउंड का उत्पादन और प्रति दिन 10 मिलियन क्यूबिक मीटर से अधिक गैस होने की उम्मीद है, जो ऊर्जा में योगदान देगा। उन्होंने #आत्मनिर्भरभारत और #ONGCJeetegaToभारतजीतेगा का भी इस्तेमाल करते हुए पूरे देश को बधाई दी है।

ओएनजीसी ने समंदर के नीचे से तेल का उत्पादन शुरू करने के लिए फ्लोटिंग जहाज आर्मडा स्टर्लिंग-वी को किराए पर लिया है। आईएस 70 फ़ीसदी स्वामित्व वाली शापूरजी पॉलोनी ऑयल एंड गैस के पास और 30 फ़ीसदी मलेशिया की बुमी आर्मडा के पास है। कंपनी धीरे-धीरे यहां से उत्पादन बढ़ाएगी।

ओएनजीसी के शेयर 52 ग्रैंड ब्रिज की खोज की गई

ओनेजीसी के शेयर आज इस खबर के दम पर दौड़ रहे हैं और शेयर ने अपना 52 लिया गया शहर का उच्च स्तर छू लिया है। यह 52-सप्ताह ऊंचा आज ही आया है और ये 220.80 रुपये का बना है। दोपहर 12 बजे 08 मिनट पर ओएनजीसी के शेयर 0.81 फीसदी की उछाल के साथ 218.20 रुपये प्रति शेयर का बिजनेस कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें

अडानी ग्रुप के प्रमुख क्षेत्र बिग डिलर में एसीसी ने एशियन कॉन्सक्रेट्स एंड फाइनेंसर्स को खरीदा



[ad_2]

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *