Breaking
Wed. Jun 19th, 2024

[ad_1]

इस साल जापान और कोरिया जैसे उद्यमों में एन गुप्तचरों को ट्रैक करने वाले कई पैसिव फंड लॉन्च किए गए हैं। सबसे प्रमुख घरेलू उद्यमियों में से एक एनएससी ने एक एलसीडी में ऐसे निवेशकों के बारे में हाल ही में जानकारी दी। एन एसओसी ने बताया कि इस साल जापान और दक्षिण कोरिया में 7 ऐसे पैसिव फंड लॉन्च किए गए हैं, जो एन एस सी के विभिन्न शिष्यों को ट्रैक करते हैं।

नये फंडों की कीमत 550 मिलियन डॉलर

एनओसी के अनुसार, बुधवार को जारी एक दस्तावेज़ के अनुसार, जापान और कोरिया में लॉन्च किए गए इन पैसिव फ़ैक्ट्स में ई-दस्तावेज़ और शेयरधारक शामिल हैं। इनमें से 6 प्रोडक्ट्स निर्माता 50 को ट्रैक करते हैं, जबकि एक सहायक निर्माता 50 2X लीवरेज को ट्रैक करता है। एनएससी के दावे के अनुसार, इन 7 फ़ंडों ने मिलकर लगभग 550 मिलियन डॉलर की संपत्ति के आधार पर सफलता हासिल की है।

इस साल लॉन्च हुए ये 7 फंड

इन फंडों में 4 फंड्स दैवा एसेट एसेट, एनजेड एसेट एसेट एसेट, एयू एसेट एसेट एसेट और सुमितोमो मित्सुई ट्रस्ट एसेट एसेट जापान में लॉन्च किए गए हैं। ये चारो इन्वेस्टर्स आर्किटेक्ट्स के ट्रैक बनाते हैं। वहीं दक्षिण कोरिया में 3 फंडर्स लॉन्च हुए हैं. इनमें से दो फंड्स मिराए एसेट ग्लोबल इन्वेस्टिगेशन्स और सैमसंग एसेट मैड्रिड 50 को ट्रैक करते हैं, जबकि एक फंड सैमसंग एसेट मैग्निफ्टी 50 2X लीवरेज को ट्रैक करता है।

दुनिया भर में 290 से ज्यादा फंड

एनएससीओ के अनुसार, अभी भारत से बाहर अन्य देशों में 21 पैसे के निवेशकों को ट्रैक कर रहे हैं। इन उत्पादों में आईश इयर्स ब्लैकरॉक, डीडब्ल्यूएस, फर्स्ट ट्रस्ट, नोमुरा एसेट ग्लोबल इन्वेस्टमेंट्स, मिराए एसेट ग्लोबल इन्वेस्टमेंट्स, सैमसंग एसेट एसेट कंपनी, फूबॉन एसेट एसेट कंपनी, ग्लोबल एक्स, किवूम ​​एसेट एसेट कंपनी आदि जैसे कई बड़े ग्लोबल एसेट मैनेजर्स ने लॉन्च किया है। वहीं भारत में भी 270 पैसे के क्रेडिट ट्रैक कर रहे हैं।

10 प्राचीन काल में इस प्रकार है भव्य एयूएम

ऐसे ही देखें तो अभी दुनिया भर में 290 से ज्यादा ऐसे पैसिव फंड हैं, जो अलग-अलग तरह के गुप्तचरों को ट्रैक करते हैं। पिछले 10 वर्षों में इन फंडों की कुल संपत्ति में कई गुना संपत्ति है। नवंबर 2013 में विभिन्न फंडों के टूरिस्टों को ट्रैक करने वाले लगभग 1 मिलियन डॉलर पर पहुंच गए, जो नवंबर 2023 में लगभग 70 मिलियन डॉलर तक पहुंच गए। यह पिछले 10 प्राचीन काल में 53 प्रतिशत की वृद्धि का स्रोत है।

ये भी पढ़ें: इस साल 280 शेयर बने मल्टीबैगर, हर 10 में से 8 के चढ़े भाव, बेरोजगारी हुई 13 सौ बेडरूम तक की कमाई

[ad_2]

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *