Breaking
Wed. Jun 19th, 2024

[ad_1]

बैंकिंग नौकरियाँ: बैंकिंग सेक्टर (बैंकिंग सेक्टर) में बैंकिंग सेक्टर शामिल है। व्यवसाय के बढ़ने से न केवल सरकारी बल्कि निजी बैंकों (प्राइवेट बैंक) ने जमकर कमाई की है। आगे भी यही ट्रेंड देखने को मिल रहा है क्योंकि साबिक सेक्टर में हो रहे सुधार, आरबीआई की सीटें और डिजिटल संस्थानों से बैंकों का कारोबार और तेजी से बढ़ रहा है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) के आंकड़ों के मुताबिक, पिछले साल वित्त में बैंकों ने करीब 1.23 लाख लोगों को नौकरियां दीं। यह पिछले 10 प्राचीन काल में सबसे अधिक था। इस दौरान प्राइवेट बैंकों ने सबसे ज्यादा हिस्सेदारी हासिल की। उम्मीद है कि अगले साल फाइनेंस बैंक और भी बड़ी हिस्सेदारी की पेशकश की जाएगी।

निजी बैंकों ने सबसे अधिक कमाई का आकलन किया

मेट्रो और बड़े शहरों में अपनी पकड़ बना ली निजी बैंक अब टियर-3 और ग्रामीण इलाकों पर फोकस कर रहे हैं। इसलिए नई उधारी में निजी बैंक सबसे आगे रह रहे हैं। उन्होंने कस्टमर गुड्स, कर्ज़, गैलरी और टेक्नोलॉजी प्लांट में सबसे अधिक नौकरियां दी हैं। प्राइवेट सेक्टर के थोक बैंक, बैंक ऑफ इंडिया, एक्सिस बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक, इंडसइंड बैंक, एचडीएफसी फर्स्ट बैंक, बंधन बैंक और एयू बैंक ने 2023 में अपनी विस्तार योजना के तहत रोजमर्रा की साझेदारी की शुरुआत की है। वर्ष 2011 में डिजिटल सेक्टर में सबसे ज्यादा बेरोजगारी वित्त वर्ष 2011 में मिली थी। उस समय बैंकों में लगभग 1.25 लाख लोगों को नौकरियाँ मिलीं।

कार्यालयों में 17 लाख से अधिक कर्मचारी हैं

बैंकों की कुल संख्या वित्त वर्ष 2022 में 2023 में 7.4 प्रतिशत बढ़ी। सरकारी और निजी संस्थानों में लगभग 17 लाख लोगों को रोजगार मिला हुआ है। विशेषज्ञ के अनुसार, चालू वित्त वर्ष के अंत तक नए शेयरधारकों की संख्या 1.25 लाख के आंकड़े आसानी से पार कर जाएंगे।

छोटे शहर और बिजनेस हथियाने की तैयारी

निजी बैंक छोटे शहरों और ग्रामीण क्षेत्रों में व्यवसायों की बड़ी संख्या देख रहे हैं। इन इलाक़ों में विशेष सरकारी बैंकों (सरकारी बैंकों) के पद ही उपलब्ध हैं। इसलिए नई भर्तियां कर एशिया में निजी बैंक अपनी पकड़ मजबूत बनाना चाहते हैं। साथ ही ये बैंक डिजिटल प्लेटफॉर्म को मजबूत करने के शेयर शेयर ग्रोथ पर भी जोर दे रहे हैं। तेजी से अर्थव्यवस्था, प्लास्टिक लोन और कॉमर्स की अर्थव्यवस्था ने भी अर्थव्यवस्था को मजबूत बना दिया है। पुराने कर्मचारियों के साथ ही पुराने कर्मचारी भी अपने साथ जोड़े गए भंडारों की खेती भी करना चाह रहे हैं।

इलेक्शन का फैंटेसी गेम, जीतें 10,000 तक के गैजेट्स 🏆
*नियम एवं शर्तें लागू
https://bit.ly/ekbabplbanhin

ये भी पढ़ें

यूपीआई लेनदेन: हर महीने नया रिकॉर्ड बना रहा है यूपीआई पेपैल, नवंबर में नया शिखर मंदी, फास्टैग भी बढ़ा

[ad_2]

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *