Breaking
Fri. Mar 1st, 2024


नए आईपीओ को मंजूरी: भारतीय शेयर बाजार पर इन दिनों आई शेयर बाजार में आई स्टॉक मार्केट चढ़ी हुई है। एक के बाद एक लॉन्च हो रहे आई स्लीप्स ने आँखों की जेबें भर दी हैं। इनवेस्टर्स ने भी आईएसआई पर जबरदस्त पैसा लगाया है और इनवेस्टर्स के भविष्य की परिभाषा के पीडीएफ दिए गए हैं। साल का अंत निश्चित रूप से सामने आया है। मगर, आई साइलैप्स का ख़ुमार अभी बंद नहीं होने वाला है। बाजार नियामक सेबी ने बुधवार को ही तीन और कंपनियों को आई कंपनियों की मंजूरी दे दी है। इसके जल्द ही ज्योति सीएनसी ऑटोमेशन लिमिटेड, बीएलएस ई-सर्विसेज लिमिटेड और दिग्गज एंड स्टोर लिमिटेड अपना आईडियाल मार्केट ला सकते हैं। आइए एक नज़र डालते हैं इन स्टार्स की कंपनियों पर डाल लेते हैं।

सेबी का एट्रेंटल लेटर थ्री यूनिट को मिल गया

इन टायरी ही ऑर्गेनाइजेशन ने अगस्त से अक्टूबर के बीच सेबी के पास आई दिवाला के लिए आवेदन किया था। सेबी ने 12 से 15 दिसंबर के बीच तीर्थयात्रियों के बीच दस्तावेजों का सत्यापन करने के लिए एक प्रवेश पत्र जमा किया था। सेबी का एट्रेंटल लेटर जरूरी है। इन ब्लॉग के शेयर शेयरहोल्डर और एन ग्रुप पर लिस्ट होंगे।

ज्योति सीएनसी ऑटोमेशन क्या करता है?

ज्योति सीएनसी ऑटोमेशन का 1000 करोड़ रुपए होगा। कंपनी सारी नई शेयरिंग जारी। सेल के लिए ऑफर इसमें शामिल नहीं है. आई सीलिंग से मिले दवाओं का उपयोग कंपनी ऋण चुकाने, वर्किंग कैपिटल एकत्रित करने और सामान्य मूल्यांकन कार्य के लिए किया जाएगा। यह कंपनी कंप्यूटर न्यूमेरिकल कंट्रोल (सीएनसी) की दिग्गज निर्माता है। इसके कई सेक्टर में ग्राहक हैं.

बीएलएस ई-सर्विसेज लिमिटेड

बीएलएस ई-सर्विसेज लिमिटेड सर्विसेज सर्विसेज है। यह बीएलएस इंटरनेशनल लिमिटेड की सहायक कंपनी है। कंपनी आई नोटिफिकेशन के तहत 2.41 करोड़ ताजा शेयर जारी। इसमें भी ओ फीचर्स शामिल नहीं होंगे. आई सील्स से मिले ड्रग्स कंपनी से नई कैपेसिटी डेवलेप कंपनी। साथ ही अपने रुआबा मंच को भी डेवलप करें।

बाबर्ड्स एंडलॉट

250 करोड़ रुपये के नए रिलायंस शेयर जारी किए जाएंगे। साथ ही 1.42 करोड़ रियल एस्टेट स्टॉक्स की बिक्री भी की जाएगी। इस आई सील से आए डॉक्टरों की कंपनी ने लोन चुकाया और सामान्य डॉक्यूमेंट्री में भी इसका इस्तेमाल किया जाएगा। केरल की यह कंपनी ऑटोमोटिव स्टॉकशिप में लगी है। यह मारुति सुजुकी, होंडा और जेएलआर की ट्रैवलर व्हीकल शिपशिप और टाटा मोटर्स की कमर्शियल व्हीकल शिपशिप चलाती है।

ये भी पढ़ें

फ्लैशबैक 2023: साल के अंत में रिकॉर्ड बिक्री, बिक सकती है 5 लाख की मकान, 5 लाख करोड़ का होगा कारोबार

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *