Breaking
Fri. May 24th, 2024

[ad_1]

<पी शैली="पाठ-संरेखण: औचित्य सिद्ध करें;"<स्पैन स्टाइल="फ़ॉन्ट-भार: 400;"आर्थिक परेशानी: पढ़ें- पूरी करने के बाद जवानी में हर इंसान मेहनत करके पैसा कमाता है ताकि वह ईमानदार से अपना बुढ़ापा गुजरात सके। द्वितीय वर्ष की आयु भी 60 वर्ष आंकी गई है। मगर, इस समय लोगों पर आर्थिक दबाव और बिजनेस की मार पड़ रही है। इसे झेलना हर किसी के बस की बात नहीं है। प्राइवेट जॉब में पेंशन न के साथ लोगों को बुढापे में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। ऐसा ही कुछ दक्षिण कोरिया में हो रहा है, जहां की करीब आधी आबादी बुजुर्ग आबादी की तलाश कर रही है। यह डेट्स वाला खुलासा सरकार द्वारा जारी आंकड़े से हुआ। 

काम तलाश रहे हैं बुजुर्ग 

आंकड़ों के अनुसार दक्षिण कोरिया में 65 साल से अधिक उम्र के बुजुर्ग बुजुर्ग खेलना चाहते हैं। इनमें से करीब 20 प्रतिशत लोगों ने इस दौरान लोन की तलाश भी की। इस सर्वे की रिपोर्ट में बताया गया है कि 65 से 79 साल के 55.7 वर्षीय बुजुर्ग के आर्थिक किस्से से चिंताएं हैं और वो काम करना चाहते हैं। इससे एक साल पहले यही पात्र 54.8 फीसदी था। साल 2013 से अगर तुलना करें तो उस समय नौकरी तलाश कर रहे बुजुर्गों का आंकड़ा सिर्फ 43.6 फीसदी था। 

सर्वे के नतीजे चिंताजनक करने वाले 

कोरिया एम्प्लॉयमेंट इन फॉर्मेशन सर्विस (केईआईएस) ने सर्वेक्षण के आधार पर जो विश्लेषण किया, वह बताया गया। इसमें हैरान करने वाले नतीजे आए हैं. बुजुर्गों में पैसा कमाने की जरूरत है। साल 2013 से लेकर अब तक 10 साल में नौकरी की चाह रखने वाले उम्रदराज लोगों का आंकड़ा 12.1 फीसदी चुका है। यह संग्रहालय पात्र है। 

वृद्ध महिलाएं भी नौकरी के लिए भटकती 

अगर केईआईएस रिपोर्ट के अन्य तथ्यों पर नजर डालें तो पता करें कि नौकरी की तलाश कर रहे बुजुर्गों में 65 प्रतिशत पुरुष और 47 प्रतिशत महिलाएं हैं। बातचीत में जो वजह सामने आई वह हैरान कर देने वाली थी। ये सभी सिर्फ आर्थिक कहानियों के साथ नौकरी तलाशने को मजबूर हो रहे हैं। पिछले एक साल में 19 फीसदी पुरुष और 18 फीसदी बुजुर्ग महिलाएं नौकरी की तलाश में निकली हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि सरकार को कम से कम पाठकों के लिए सलाह की व्यवस्था करनी चाहिए ताकि वह अपना जीवन यापन कर सके।

इलेक्शन का फैंटेसी गेम, जीतें 10,000 तक के गैजेट्स 🏆
*T&C Apply
https://bit.ly/ekbabplbanhin

ये पढ़ें

विमानन क्षेत्र: घरेलू बाजारों में सुपर और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर गिरावट आई विमान 

[ad_2]

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *