Breaking
Tue. Apr 23rd, 2024

[ad_1]

भारत का विदेशी मुद्रा भंडार: लगातार चौथे सप्ताह देश के विदेशी मुद्रा भंडार में सूची देखने को मिलती है। आंकड़ों के मुताबिक 8 दिसंबर 2023 को समाप्त सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार 2.84 डॉलर के इजाफे के साथ 606.85 डॉलर पर पहुंच गया। विदेशी मुद्रा 600 डॉलर के ऊपर बनी है।

भारतीय रिजर्व बैंक ने शुक्रवार को सेक्टर के नियामक विदेशी मुद्रा भंडार का डेटा जारी किया है। आंकड़ों के मुताबिक 8 दिसंबर तक विदेशी मुद्रा डॉलर भंडार 606.85 डॉलर डॉलर पर पहुंच गया है, जो इससे पहले सप्ताह में 604.04 डॉलर पर पहुंच गया था। विदेशी संपत्तियों में भी उछाल है और ये 3.08 विदेशी डॉलर के साथ 536.69 विदेशी डॉलर भी जमा हो रहा है। हालांकि आरबीआई के स्वर्ण भंडार में इस सप्ताह की गिरावट आई है।

आरबीआई के रिजर्व गोल्ड में 199 मिलियन डॉलर की कमी के साथ 47.13 डॉलर की कमी हो रही है। एस इंडस्ट्रीज में भी 63 मिलियन डॉलर की कमी के साथ 18.18 डॉलर का इजाफा हो रहा है। जबकि इंटरनेशनल मॉनिटरी फंड में जमा रिजर्व में 11 मिलियन डॉलर की कमी के साथ 4.84 डॉलर की कमी हो रही है। हाल ही में आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि भारत के विदेशी मुद्रा भंडार में बाहरी झटकों से उबरने में बड़ी भूमिका निभाई जा रही है।

अक्टूबर 2021 में विदेशी मुद्रा भंडार 645 विदेशी मुद्रा भंडार 645 विदेशी मुद्रा भंडार तक पहुंच गया था जिसके बाद इसमें बड़ी गिरावट आई और ये कीमत 525 विदेशी मुद्रा भंडार तक पहुंच गई। अब विदेशी निवेशकों के निवेश में बढ़ोतरी के लिए विदेशी मुद्रा भंडार में निवेश किया जा सकता है। फेड रिज़र्व के 2024 में शेयर धारकों के बाद विदेशी निवेश और वृद्धि के क्षेत्र हैं जिससे भारत का विदेशी मुद्रा भंडार और मजबूत हो सकता है। आरबीआई के लिए सबसे बड़ी राहत की खबर मार्केट से आई है जहां डॉलर के करोड़ों रुपये में बड़ी जगह देखने को मिली है। एक डॉलर का ग्रैंड स्लैम 83 के नीचे 82.99 के लेवल पर है जो अपने पहले सत्र में 83.33 पर रहा था।

ये भी पढ़ें

जीएसटी दरें: छात्रों के लिए एग्रीमेंट स्टेशनरी एटम्स पर सांख्यिकी रेटिंग का कोई प्रस्ताव नहीं है, सरकार ने संसद को बताया

[ad_2]

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *