Breaking
Tue. Apr 23rd, 2024

[ad_1]

एनएसई असूचीबद्ध शेयर मूल्य: स्टॉक एक्सचेंज पर भले ही देश की सबसे बड़ी स्टॉक एक्सचेंज नेशनल स्टॉक एक्सचेंज लिस्ट नहीं हुई हो। लेकिन दो सप्ताह में एनओएससी के एनलिस्टेड शेयरों के भाव में 20 फीसदी से ज्यादा का उछाल आया है। ऑफ-मार्केट ट्रांजेक्शन में स्टॉक में ये उछाल देखने को मिला है।

एनएससी के अनलिस्टेड शेयर की भारी मांग देखी जा रही है। बाजार में रिच रिचर्स और स्ट्रैटिजी सब्जेक्ट की ओर से सबसे ज्यादा डिजायन देखने को मिल रही है। एनओसी के अनलिस्टेड शेयर्स की जहां भारी मात्रा में डिजायनर हैं लेकिन पोस्टकार्ड बेहद सीमित है। वहीं जिन बड़ी कंपनियों के पास एनओसी के शेयर हैं वो डॉल के अपने कमेंट से पीछे हट रहे हैं।

हाल के महीनों में एलएलसी और मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज ऑफ इंडिया (एमसीएक्स) के स्टॉक में स्टॉक में तेजी जारी है। पिछले एक साल में 331 फीसदी और तीन शेयरों में 1000 फीसदी का उछाल आया है। जबकि बांडुक्स का स्टॉक शेयर वर्षों में दोगुना हो गया है। इन दोनों के ही रिव्यू के स्टॉक में तेजी के साथ एन यूनिट के एनलिस्टेड शेयरों की भारी उछाल देखने को मिलती है। वहीं एनएसडीएल के आई बालाजी आने की भी एक एनओसी के शेयर की मांग है। एनएसडीएल (नेशनल सिक्योरिटीज डिपॉजिटरी लिमिटेड) में एनओसी की 24 प्रतिशत हिस्सेदारी है।

एनलिस्टेड मार्केट में एनओसी का स्टॉक 20 फीसदी के उछाल के साथ 3800 से 3900 रुपये के बीच कारोबार कर रहा है। एक महीने पहले भाव 3100 से 3200 रुपए का बीच कारोबार हो रहा था। जनवरी 2021 में एनएससी का स्टॉक मार्केट में सूचीबद्ध 1800 रुपये का कारोबार हो रहा था। यानि तीन प्राचीन में स्टॉक डबल हो चुका है। पिछले काफी समय से एनएससी के आई सिपाहियों की चर्चा हॉट रही है। एनओसी देश का सबसे बड़ा स्टॉक शेयर डेली टर्नओवर का पसंदीदा है।

ये भी पढ़ें

एमपीआई पर नीति आयोग: 9 साल में बहु गरीबी के मुद्दे पर नीति आयोग के दावे पर अर्थशास्त्रियों ने उठाया सवाल, पूछा- ‘कहां से ला रहे डेटा’

[ad_2]

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *