Breaking
Fri. Jun 21st, 2024

[ad_1]

प्याज निर्यात प्रतिबंध: 2024 में होने वाला चुनाव अब सिर्फ 4 महीने की दूरी है तो मोदी सरकार इस महाचुनाव से पहले किसानों को लेकर कोई जोखिम नहीं लेना चाहती है। ऐसे में सरकार ने प्याज की पैदावार बढ़ाने का बड़ा फैसला लिया है. केंद्र सरकार ने मार्च 2024 तक प्याज के एक्सपोर्ट पर रोक लगाने का फैसला लिया है.

डायरेक्टरेट जनरल ऑफ फॉरेन ट्रेड (डीजीएफटी) ने इस फैसले को लेकर अधिसूचना जारी की है। अधिसूचना में कहा गया है कि प्याज के एक्सपोर्ट में संशोधन करते हुए उसे मुफ्त से प्रतिबंधित कर दिया गया है। पेज एक्सपोर्ट पर बैन का फैसला शुक्रवार 8 दिसंबर, 2023 से लागू हो गया है। कंज्यूमर अफेयर्स विभाग के अनुसार 8 दिसंबर 2023 को खुदरा बाजार में प्याज की औसत कीमत 56.82 रुपये प्रति किलो है। जबकि 8 दिसंबर 2022 को औसत प्याज की कीमत 28.88 रुपये प्रति किलो थी. एक साल में ऑनलाइन ओन्ज़ा के नॉच में करीब डबल (97 फीसदी) का उछाल आया है।

हालांकि सरकार ने कहा है कि तीन रेनॉल्ड्स में प्याज के निर्यात में छूट दी जा सकती है। जिसमें पहली अधिसूचना के जारी होने से पहले जहाज पर प्याज की लोडिंग की जा रही हो। दूसरा, अधिसूचना के जारी होने से पहले प्लेस्टेशन बिल का भुगतान किया गया हो वेसल पोर्ट पर ओपेन की लोडिंग के लिए रीच का भुगतान किया गया हो। इस परिस्थिति में एक्सपोर्ट की एक रहस्यमयी स्थिति देखने को मिली, जब कंपनी ने ये कंफर्म कर दिया कि जहाज की बर्थिंग की जा रही है। और तीसरी स्थिति ये है कि एक्सपोर्ट किया गया ओएनजीसी को कस्टम से अलग किया जा सकता है और सिस्टम में उसकी रजिस्ट्री हो सकती है। ये छूट केवल 5 जनवरी 2024 तक ही मिलेगी।

प्याज की खेती का रकबा कम हो रहा है और फसल में देरी हो रही है। दो दिन पहले ही क्रिस्टिन ने अपनी रिपोर्ट में कहा था कि प्याज के मांस में शाकाहारी भोजन करने वालों की थाली बिखरी हुई है। इससे पहले केंद्र सरकार के सामान, चावल, चीनी के मिश्रण पर भी रोक लगा दी गई है। गुरुवार को कोल सरकार ने चीनी जिले में उथल-पुथल के बाद चीन में एथीन बनाने पर रोक लगा दी, जिससे घरेलू बाजार में चीनी की कमी हो गई।

ये भी पढ़ें-

RBI मौद्रिक नीति: नहीं मिली सरकारी लोन से राहत, रेपो रेट 6.5 फीसदी पर; निफ्टी 21000 के पार

[ad_2]

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *