Breaking
Sat. Feb 24th, 2024


आईआरएफसी शेयर: भारतीय रेलवे की कंपनी इंडियन रेलवे फाइनेंस कॉर्पोरेशन (इंडियन रेलवे फाइनेंस कॉर्पोरेशन) ने पिछले 6 महीनों में करीब 244 फीसदी का मल्टीबैगर रिटर्न दिया है। दरभंगा एफसी के शेयर लगभग दो साल से मैराथन दौड़ लगा रहे हैं। एक साल पहले कंपनी का शेयर 25.40 रुपये प्रति था, जो कि मंगलवार को 140 रुपये के सरकारी आंकड़ों को पार कर चुका है। पब्लिक एरिया की इस कंपनी ने अपनी कमाई का पैसा एक साल में पांच गुना से भी ज्यादा कर दिया है. उम्मीद की जा रही है कि कंपनी आपके शेयरधारकों को अच्छा लाभांश देने वाली कंपनी बन जाएगी। उन्होंने पहले भी शानदार डिविडेंड दिया है.

मिनीरत्न कंपनी का शेयर 170 रुपये का हो सकता है

दरभंगा एफसी एक मिनी रत्न कंपनी (पीएसयू) है। इसका नियंत्रण रेलवे मंत्रालय का है। शेयर बाज़ार के अनुसार, कंपनी के शेयर लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। इस पीएससीयू के स्टॉक में गवाहवसूली के संकेत मिल रहे हैं। उद्यमिता को थोड़ा रुक कर इसमें निवेश करने की सलाह दी जा रही है। ऐसा माना जा रहा है कि कंपनी का शेयर 115 रुपये तक कम हो सकता है. इसके बाद यह 170 रुपये की जमीन पर भी कब्जा कर सकता है।

साल 2024 में ही 13 फीसदी उछाल उछाल आए हैं शेयर

आंकड़ों के मुताबिक, साल 2024 में ही तूफान एफसी के शेयर करीब 13 प्रतिशत उछले हैं। अगर पिछले एक महीने के आंकड़ों पर नजर डालें तो इसमें 36 फीसदी का उछाल आया है. साथ ही तीन महीनों में यह पीएससी यू स्टॉक लगभग 51 फीसदी से ऊपर हो गया है। इस वजह से सिर्फ 6 महीने में ही कंपनी का शेयर मल्टीबैगर बन गया है। सिर्फ 6 महीने में इंटरव्यू को 244 प्रतिशत का भारी भरकम रिटर्न दिया गया है। दो साल में 392 फीसदी की तेजी आई है. इससे यह अनयोनि की झोले रिवोल्यूशन वाला स्टॉक बन गया है।

दो साल से कंपनी बाँट रही अच्छा डिविडेंड

अगर अभी भी मार्केट पर नजर डाली जाए तो यह स्टॉक 1.32 प्रतिशत डिविडेंड दे सकता है। सूची वेबसाइट के अनुसार, मजबूत एफसी ने 2023 नवंबर में 0.80 प्रतिशत और सितंबर में 0.70 प्रतिशत लाभांश अर्जित किया था। इससे पहले 2022 में कंपनी ने नवंबर में 0.80 फीसदी और सितंबर में 0.70 फीसदी का लाभांश दिया था।

डिस्कलेमर: यहां पर पासपोर्ट सूचना केवल जानकारी दी जा रही है। यहां जरूरी है कि बाजार में निवेश बाजार जोखिमों से जुड़ा हो। निवेशक के अनुसार पैसा कमाने से पहले हमेशा के लिए योग्यता से सलाह लें। ABPLive.com की तरफ से किसी भी तरह का पैसा उपयोग करने के लिए यहां कभी भी कोई सलाह नहीं दी जाती है।

ये भी पढ़ें

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस: भारत में 40 फीसदी एआई के खतरे में, आई स्टॉल ने दी चेतावनी

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *