Breaking
Fri. Mar 1st, 2024


पिछले साल हिंडनबर्ग रिसर्च की रिपोर्ट के बाद बेपटरी हुई अडानी ग्रुप की धीरे-धीरे वापसी हो रही है। अडानी के ऑफर अब आम तौर पर आम तौर पर लागू हो गए हैं। ग्रुप की पोर्ट कंपनी अडानी पोर्ट्स एंड सेज ने हाल ही में बॉन्ड मार्केट में एंट्री की है। ऐसा 2 साल में पहली बार हुआ है, जब अडानी पोर्ट्स बॉन्ड मार्केट में है।

दो बॉन्ड के लिए मिलीं इतनी बोलियां

रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के, अडानी पोर्ट्स ने 5 साल और 10 साल में मैच्योर हो रहे बॉन्ड के लिए बोली प्राप्त करें। कंपनी ने दोनों बॉन्ड एकसेप्ट के लिए 60.2 मिलियन डॉलर यानी 500 करोड़ रुपये के लिए दिए। दोनों बॉन्ड के लिए कंपनी को 1000 करोड़ रुपए की बोलियां हासिल हुई थीं। अडानी पोर्ट्स इन दोनों बॉन्ड पर 7.80 फीसदी और 7.90 फीसदी का डिस्काउंट रेट ऑफर कर रही है। ये मॉडल रेट सिमिलर रेटिंग्स वाली कंपनी की तुलना में 15 से 20 बेसिस पॉइंट ज्यादा है। वह था. उस समय अडानी ग्रुप की पोर्ट कंपनी ने बाजार से 6.25 फिस डॉलर की दर से 10 डॉलर डॉलर की पेशकश की थी। इसके बाद अडानी ग्रुप के फाइनैंशियल फाइनेंसियल ग्रुप की कई योजनाओं में हिंडनबर्ग रिसर्च की विवादास्पद रिपोर्ट को कारण बताया गया। अमेरिकन शॉर्ट सेलर फर्म ने ऐसे समय अडानी ग्रुप की रिपोर्ट जारी की थी, जब ग्रुप की प्लसरी कंपनी अडानी इंटरनैशनल कंपनी एफ. इसका असर अडानी इंटरनैशनल इंटरप्राइजेज के फॉलो-ऑन पब्लिक ऑफर पर भी पड़ा। अडानी इंटरनैशनल एक्सचेंज की रिपोर्ट में कहा गया है कि एफ ग्रुप को पूरा सब्सक्राइब करने के बाद भी वापस ले लिया गया और सभी साथियों को उनका पैसा वापस कर दिया गया। अब अडानी ग्रुप की पोर्ट कंपनी ऐसे समय के बॉन्ड मार्केट में है, जब हिंडनबर्ग के दावे पर सेबी ने सुप्रीम कोर्ट को मंजूरी दे दी है।

कंपनी ने ये घोषणा की है

अडानी पोर्ट्स दुनिया की सबसे बड़ी पोर्ट टेलीकॉम कंपनियों में से एक है। अभी कंपनी भारत में 13 पोर्ट व टर्मिनल को संचालित कर रही है। कंपनी ने पिछले सप्ताह यह घोषणा की थी कि वह बॉन्ड की फंडिंग वाली कंपनी है। कंपनी ने आने वाले महीनों में 5000 करोड़ रुपये तक के बांड की घोषणा की थी। कंपनी द्वारा संचालित फंडों का अधिकांश उपयोग आपके स्थिर ऋणों के पुनर्वित्तपोषण पर करने वाली है।

ये भी पढ़ें: भारत पर विश्व बैंक को भरोसा, शानदार बनी शेयर बाजार की कहानी, इस साल ऐसा रहेगा हाल!

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *